Home > मैक्सिको में 100 साल का सबसे बड़ा भूकंप, मरने वालों की संख्या 60 हुई, सूनामी की चेतावनी

मैक्सिको में 100 साल का सबसे बड़ा भूकंप, मरने वालों की संख्या 60 हुई, सूनामी की चेतावनी

 Vikas Kumar |  2017-09-09 05:15:41.0  |  मैक्सिको

मैक्सिको में 100 साल का सबसे बड़ा भूकंप, मरने वालों की संख्या 60 हुई, सूनामी की चेतावनी

मैक्सिको : दक्षिण मैक्सिको में आए भीषण भूकंप से मरने वालों की संख्या बढ़कर 60 से ज्यादा हो गई है। वहीं भूकंप में 250 से ज्यादा लोग घायल हो गए है। भूकंप से काफी नुकसान हुआ है, सैकड़ों इमारतें ढह गईं।

देश के दूसरे हिस्से में 'कातिया' तूफान से निपटने की तैयारी में जुटे मैक्सिको के लिए यह दूसरी बड़ी राष्ट्रीय आपदा के रूप में उभरा है। इस तूफान के आज वेराक्रूज में खाड़ी तट पर पहुंचने की आशंका है। श्रेणी दो के इस तूफान से जानलेवा बाढ़ के आने का खतरा भी बना हुआ है।

भूकंप गुरुवार रात 11 बजकर 49 मिनट (स्थानीय समयानुसार) पर आया था। 8.1 तीव्रता के भूकंप के झटके लगभग 1 मिनट तक महसूस किए गए। जोरदार भूकंप के झटकों के बाद सुनामी की चेतावनी जारी की गई है। भूकंप के बाद भी 4.9 से 5.7 तीव्रता के झटके महसूस किए गए।

भूकंप के झटके के बाद कई इमारतें हिलने लगी और राजधानी तक में लोग घबरा कर सड़कों पर उतर आए। भूकंप के झटके मैक्सिको सिटी तक महसूस किए गए जिससे डरे लोग अंधेरे में सड़कों पर एकत्रित हो गए, उन्हें डर था कि इमारतें गिर जाएंगी। बताया जा रहा है ये मेक्सिको में 100 साल में सबसे बड़ा भूकंप आया था।

वहीं अमेरिका सूनामी चेतावनी प्रणाली के अनुसार भूकंप से कई मध्य अमेरिका देशों में सूनामी आने का खतरा है जिनमें ग्वाटेमाला की प्रशांत तटरेखा, होंडुरास, मैक्सिको, अल सल्वाडोर और कोस्टा रिका शामिल हैं। और हवाई, गुआम और अन्य प्रशांत द्वीपों के लिए खतरे का आकलन किया जा रहा है।

अमेरिकी भूगर्भीय सर्वेक्षण ने कहा कि भूकंप की तीव्रता 8.1 थी और इसका केंद्र दक्षिण चियापास राज्य में तापाचुला से 165 किलोमीटर पश्चिम में स्थित था। भूकंप की गहराई जमीन से 35 किलोमीटर नीचे थी।

Tags:    
Share it
Top