Home > NSG में एंट्री के लिए अमेरिका ने किया भारत का सपोर्ट, चीन और पाकिस्‍तान ने किया था बिरोध

NSG में एंट्री के लिए अमेरिका ने किया भारत का सपोर्ट, चीन और पाकिस्‍तान ने किया था बिरोध

 Special News Coverage |  2016-05-14 11:30:39.0

अमेरिका
NSG में एंट्री के लिए अमेरिका ने किया भारत का सपोर्ट


वॉशिंगटन : न्यूक्लियर सप्लायर्स ग्रुप (NSG) में भारत को एंट्री दिलाने के लिए अमेरिका ने सपोर्ट किया है। इससे पहले चीन ने यह कहते हुए भारत का विरोध किया था कि अगर एनएसजी में पाकिस्तान को एंट्री नहीं मिलती तो भारत को भी नहीं मिलनी चाहिए। भारत ने एनएसजी में एंट्री के लिए एप्लिकेशन दी है। एनएसजी न्यूक्लियर मटेरियल सप्लाई करने वाले देशों का ग्रुप है।


अमेरिकी विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता जॉन किर्बी ने संवाददाता सम्‍मेलन के दौरान कहा, 'राष्‍ट्रपति (बराक ओबामा) ने 2015 के अपने भारत दौरे के बीच जो बात कही थी, मैं फिर से उस पर आपका ध्‍यान खींचना चाहता हूं। उन्‍होंने इस बात की पुष्टि की थी कि अमेरिका का यह मत है कि भारत मिसाइल टेक्‍नॉलजी कंट्रोल से जुड़ी जरूरतों को पूरा करता है और वह एनएसजी की सदस्‍यता के लिए तैयार है।'

किर्बी ने आगे कहा, 'किसी नए सदस्‍य को एनएसजी में शामिल करने की संभावनाओं को लेकर होने वाला विचार-विमर्श मौजूदा सदस्‍यों के बीच का मामला है।'

बता दें कि शुक्रवार को ही चीन ने दावा किया था कि इस ग्रुप में भारत को शामिल नहीं करने को लेकर उसे कई देशों का समर्थन हासिल है। इससे पहले ऐसी खबर भी आई थी भारत को रोकने के लिए चीन खास रणनीति अपना रहा है जिसके तहत वह भारत और पाकिस्‍तान दोनों को इस समूह में शामिल करने पर रजामंदी देगा या फिर किसी को भी नहीं।

Tags:    
Share it
Top