Home > ईसाई धर्म प्रचारक बिली ग्राहम का 99 साल की उम्र में निधन

ईसाई धर्म प्रचारक बिली ग्राहम का 99 साल की उम्र में निधन

दुनियाभर में लाखों लोगों को ईसाई धर्म की शिक्षा देने वाले बिली ग्राहम का निधन हो गया है। 99 वर्ष के बिली ग्राहम बुधवार को उत्तरी कैरोलिना के मांट्रीट शहर में अपने घर पर आखिरी सांस ली।

 Vikas Kumar |  2018-02-22 13:02:36.0  |  New Delhi

ईसाई धर्म प्रचारक बिली ग्राहम का 99 साल की उम्र में निधन

नई दिल्ली : दुनियाभर में लाखों लोगों को ईसाई धर्म की शिक्षा देने वाले बिली ग्राहम का निधन हो गया है। 99 वर्ष के बिली ग्राहम बुधवार को सुबह आठ बजे उत्तरी कैरोलिना (अमेरिका) के मांट्रीट शहर में अपने घर पर आखिरी सांस ली।

बताया जा रहा है वह कुछ वर्षो से कैंसर व कई अन्य बीमारियों से जूझ रहे थे। बिली ग्राहम अमेरिका के राष्ट्रपतियों के सलाहकार भी रह चुके थे। ईसाई मत के प्रचार के लिए उन्होंने दुनिया भर की यात्राएं कीं।

उनके संगठन के अनुसार, उन्होंने इतिहास में किसी अन्य व्यक्ति की तुलना में सबसे ज्यादा लोगों को ईसाई धर्म का उपदेश दिया। गृह राज्य उत्तरी कैरोलिना से लेकर कम्युनिस्ट देश उत्तरी कोरिया तक उनके लाखों अनुयायी हैं।

ग्राहम ने इंग्लैंड की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय और प्रिंस फिलिप को भी उपदेश दिया था। उन्होंने अपने 60 साल के कार्यकाल में लगभग 21 करोड़ लोगों को व्यक्तिगत रूप से शिक्षा दी। उन्होंने अमेरिका के राष्ट्रपति हैरी ट्रमैन के समय से अब तक सभी राष्ट्रपतियों के साथ प्रार्थना की।

बता दें बिली ग्राहम यानी विलियम फ़्रैंकलिन ग्राहम जूनियर का जन्म 7 नवंबर, 1918 को नॉर्थ कैरोलिना के शैरलट में हुआ था। ग्राहम के परिवार में दो बेटे, तीन बेटियां और कई पोते-परपोते हैं।

Tags:    
Share it
Top