Home > अमेरिका का उत्तर कोरिया को करारा जवाब, कोरियन पेनिनसुएला पर उड़ाए फाइटर प्लेन

अमेरिका का उत्तर कोरिया को करारा जवाब, कोरियन पेनिनसुएला पर उड़ाए फाइटर प्लेन

 Vikas Kumar |  2017-09-18 12:34:03.0  |  नई दिल्ली

अमेरिका का उत्तर कोरिया को करारा जवाब, कोरियन पेनिनसुएला पर उड़ाए फाइटर प्लेन

नई दिल्ली : अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच तनाव लगातार बढ़ता ही जा रहा है। परमाणु और मिसाइल परिक्षण के बाद अमेरिका अब उत्तर कोरिया पर दबाव बनाने की तैयारी कर रहा है। इसी के मद्देनजर सोमवार को अमेरिका ने उत्तर कोरिया के ऊपर फाइटर प्लेन उड़ाकर उसे चेतावनी देने की को​शिश की है।

अमेरिका के चार F-35B फाइटर जेट और दो B-1B बम वर्षक विमानों ने उत्तर कोरिया के कोरियन पेनिनसुएला के ऊपर से उड़ान भरी। उत्तर कोरिया के पड़ोसी देश दक्षिण कोरिया के रक्षा मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया कि चार F-35B फाइटर जेट और दो B-1B बमवर्षक विमानों ने उड़ान भरकर अमेरिका और साउथ कोरिया की साझा ताकत का प्रदर्शन किया। अमेरिका और दक्षिण कोरिया उन सभी धमकियों के खिलाफ है, जो उत्तर कोरिया परमाणु और मिसाइल परिक्षण के जरिए दे रहा है।

गौरतलब है कि हाल ही में उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन ने अपने हाइड्रोजन बम का परीक्षण करने के बाद शुक्रवार को फिर एक मिसाइल छोड़ी। इस बार निशाने पर जापान था। उत्तर कोरिया की राजधानी प्योंगयांग से पूर्वी दिशा में यानी जापान की ओर एक मिसाइल छोड़ी गई, इसकी पुष्टि दक्षिण कोरिया और जापान की सरकार ने की थी।

जापान के पास हुए इस मिसाइल परिक्षण के बाद से इलाके में तनाव बना हुआ है, जिसके चलते अमेरिका के फाइटर जेट्स ने इस इलाके में उड़ान भरी। इससे कुछ दिन पहले दक्षिण कोरिया को निशाना बनाकर भी उत्तर कोरिया ने एक मिसाइल दागी थी।

हालांकि, दक्षिण कोरिया ने इसे रूटीन ट्रेनिंग का हिस्सा बताते हुए कहा कि, 'अमेरिका के फाइटर जेट्स के साथ दक्षिण कोरिया के F-15k फाइटर जेट भी इस ड्रिल में शामिल थे। अमेरिका और दक्षिण कोरिया आगे भी जॉइंट ऑपरेशन को बेहतर बनाने इस तरह की ट्रेनिंग को जारी रखेगा।' बता दें कि संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका की एम्बेसडर निक्की हैली ने हाल ही में उत्तर कोरिया को यह कहते हुए चेतावनी दी थी कि, 'यदि खतरनाक हथियारों का परिक्षण नहीं रुका तो प्योंगयांग तबाह हो जाएगा।'

Tags:    
Share it
Top