Home > दिल्लीवासी बने एक सप्ताह तक चलने वाले 'अबू धाबी वीक' के उद्घाटन के गवाह

दिल्लीवासी बने एक सप्ताह तक चलने वाले 'अबू धाबी वीक' के उद्घाटन के गवाह

The Department of Culture and Tourism of Abu Dhabi organized a multi-city exhibition, a week-long program that will promote the emirate’s tourism & cultural heritage proposition.

 शिव कुमार मिश्र |  2017-11-07 02:47:04.0  |  दिल्ली

दिल्लीवासी बने एक सप्ताह तक चलने वाले अबू धाबी वीक के उद्घाटन के गवाह

अबू धाबी के संस्कृति और पर्यटन विभाग ने अमीरात के पर्यटन और सांस्कृतिक विरासत के प्रस्ताव को बढ़ावा देने के मकसद से राजधानी के प्रगति विहार स्थित जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में 11 नवंबर से एक सप्ताह तक चलने वाले मल्टी-सिटी प्रदर्शनी का आयोजन किया जाएगा। इसी कार्यक्रम के मद्देनजर पर्यटन और फेरारी विश्व के गणमान्य लोगों ने 3 से 5 नवंबर के दौरान जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में मीडिया से बातचीत की।




उल्लेखनीय है कि संयुक्त अरब अमीरात की राजधानी अबू धाबी कई सालों से भारतीय पर्यटकों की घटती दिलचस्पी को लेकर चिंतित है। इसी चिंता के तहत मल्टी-सिटी प्रदर्शनी का आयोजन कर वर्चुअल रियलिटी बूथों सहित आबू धाबी के फेरारी वल्र्ड, वहां की रेगिस्तान सफारी और इत्तेहाद एयरवेज की उड़ानों जैसी आबू धाबी के आश्चर्यजनक अनुभवों को समझने का अवसर उपलब्ध कराया जाएगा, और यह सब एक ही छत के नीचे होगा। 11 नवंबर को अपने भव्य उद्घाटन के लिए शानदार सेट के साथ इस एक सप्ताह तक चलने वाली प्रदर्शनी में लौवरे आबू धाबी की एक झलक भी दिखाई जाएगी।




अबू धाबी के प्रतिनिधियों में से एक संस्कृति और पर्यटन विभाग के कंट्री मैनेजर बेजान दिनशॉ से यह पूछने पर कि अबू धाबी में भारतीय फिल्मों और टीवी शो की शूटिंग के लिए दी जाने वाली सब्सिडी और करों में मिलने वाले छूट लाभों के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा, 'फिल्मांकन परमिट के पूरे रिहर्सल आदि देखने के बाद निवेश और परियोजना के आकार के आधार पर मिले अनुमोदन के तहत इसमें उचित सब्सिडी देने की व्यवस्था है और यह आसानी से उपलब्ध भी कराई जाती है। इसके साथ ही अबू धाबी में शूटिंग उद्देश्य के लिए उपयुक्त विभिन्न स्थल भी उपलब्ध कराए जाते हैं। अक्षय कुमार की फिल्म 'बेबी' भी वहां की ऐसी जगहों पर फिल्माई गई थी। इसके अलावा, वहां शूटिंग आदि की अनुमति लेने के लिए 'एकल खिड़की प्रणाली' लागू है, इसलिए अलग-अलग काउंटरों पर भटकने की आवश्यकता नहीं है।'




एशिया प्रशांत क्षेत्र मुख्यालय के यूनिट हेड अनूद खलीफा ने कहा, 'सबसे पहले हम आपके अपेक्षित सहयोग की उम्मीद के साथ अबू धाबी सप्ताह में आपका स्वागत करते हैं, जिससे हमें आशा है कि यह एक सप्ताह की मल्टी-सिटी प्रदर्शनी हमारे लिए एक वार्षिक अनुभव बन जाएगा। हम अपने सहयोगियों और हितधारकों के साथ जुड़ने के लिए खुश हैं। अबू धाबी अतिरिक्त और असाधारण कहानियां बनाने की बेहतरीन जगह है। भारत और अबू धाबी के बीच संबंध हर साल मजबूत और मजबूत हो रहे हैं। अबू धाबी के आगंतुकों में 7 फीसदी की दर से वृद्धि हुई है। हमारे पास महत्वाकांक्षी लक्ष्य हैं और हम अधिकतम भारतीय आगंतुकों को अपने यहां आमंत्रित करना चाहते हैं और उनका स्वागत करते हैं।'


संस्कृति और पर्यटन विभाग के महानिदेशक सैफ सईद घुबाश ने कहा, 'अबू धाबी के लिए भारत एक प्रमुख स्तरीय प्राथमिकता है और होटल मेहमानों के लिए हमारे दूसरे सबसे बड़ा अंतरराष्ट्रीय स्रोत बाजार का प्रतिनिधित्व करता है। यह मल्टी-सिटी प्रदर्शनी साझेदारों को विकास को तेजी से बढ़ावा देने के लिए प्रोत्साहित करेगा। यह कार्यक्रम उपभोक्ताओं, व्यापार एजेंटों और हितधारकों के लिए एक ही छत के नीचे उपस्थित होने के लिए एक महान अवसर का प्रतिनिधित्व करता है और अबू धाबी के लिए भारतीयों के लिए एक अत्यंत महत्वपूर्ण गंतव्य के रूप में प्रदर्शित किया जाना है। यह शो एक गतिशील, परिवारिक-मनोरंजन गंतव्य साबित होगा और एक ऐसा मंच भी साबित होगा, जो व्यापार को भरपूर अवसर प्रदान करेगा।



इसके अलावा, इस मल्टी-सिटी प्रदर्शनी में आगंतुकों को शामिल करने के लिए रोमांचक प्रतियोगिताओं का आयोजन भी किया जाएगा, जिसके विजेताओं को रिहायश-पैकेज, फेरारी की सवारी जैसे कई अन्य पुरस्कार शामिल दिए जाएंगे। साथ ही संयुक्त अरब अमीरात के पारंपरिक व्यंजनों के कई स्टाॅल, अमिरात के व्यंजनों, अलग-अलग कलाकारों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं संगीत प्रदर्शन, बच्चों के लिए विभिन्न गतिविधियां, लाइव पेंटिंग और सेल्फी बूथ भी मल्टी-सिटी प्रदर्शनी के मुख्य आकर्षण होंगे।

Tags:    
Share it
Top