Home > पाकिस्तान के बदले सुर, विदेश मंत्री ने कहा अमेरिका से दोस्ती का ख़ामियाज़ा भुगत रहा है पाकिस्तान

पाकिस्तान के बदले सुर, विदेश मंत्री ने कहा अमेरिका से दोस्ती का ख़ामियाज़ा भुगत रहा है पाकिस्तान

 Majid Khan |  2017-10-25 06:50:40.0  |  पाकिस्तान

पाकिस्तान के बदले सुर, विदेश मंत्री ने कहा अमेरिका से दोस्ती का ख़ामियाज़ा भुगत रहा है पाकिस्तान

पाकिस्तान के विदेश मंत्री ख़्वाजा आसिफ़ ने कहा कि पाकिस्तान और अमेरिका के बीच विश्वास का अभाव रातों रात समाप्त होने वाला नहीं है, दोनों देशों के संबंधों में पिछले कई वर्षों में इतनी बर्फ़ जम गई है कि जिसे पिघलने में समय लगेगा। ख़्वाजा आसिफ़ ने कहा कि इस समय जो प्रयास हो रहे हें उससे हम सही दिशा में जा रहे हैं और इससे बेहतर स्थिति होगी।

अफ़ग़ानिस्तान के मामलों में पाकिस्तान पर अमेरिका की आशंकाओं के बारे में ख़्वाजा आसिफ़ ने कहा कि पाकिस्तान अमेरिका से पुरानी दोस्ती का नतीजा पहले से ही भुगत रहा है, हमने 70 हज़ार जानों और अरबों डालर का नुक़सान उठाया है, हमारा शांतिपूर्ण कल्चर और सहनशीलता पर आधारित समाज था वह सब बर्बाद हो गया और इससे बुरे नतीजे अमेरिका हमें क्या भुगतवाएगा।

ख़्वाजा आसिफ़ ने कहा कि अमेरिका की दोस्ती में हमें जो ख़मियाज़ा हमें भुगतना पड़ा है हम इस समय उसी को ठीक करने में लगे हुए हैं। पाकिस्तानी विदेश मंत्री ने कहा कि यह बातें धमकी से नहीं शांति की भाषा से तय होंगी। उन्होंने कहा कि आतंकियों के सुरक्षित ठिकानों से हमारा कोई लेना देना नहीं है, तालेबान के पास अफ़ग़ानिस्तान में 45 प्रतिशत इलाक़ा है और यह अमेरिका तथा उसके घटकों के अपने कारनामों की वजह से है, वहीं पर उनके ठिकानें हैं जहां से वह पाकिस्तान और अफ़ग़ानिस्तान दोनों जगहों पर हमलों की योजनाबंदी करते हैं।

पाकिस्तानी विदेश मंत्री ने कहा कि अमेरिका को भी सोचना चाहिए कि वह भी अपने गिरेबान में झांके कि उसने 16 साल में अफ़ग़ानिस्तान में क्या किया। ख़्वाजा आसिफ़ का यह बयान एसे समय आया है कि जब अमेरिका के विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन ने इसलामाबाद का दौरा किया है लेकिन कहा जाता है कि इस दौरे में कोई गर्मजोशी नज़र नहीं आई।

दूसरी ओर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री कार्यालय से जारी बयान में बताया गया है कि टिलरसन ने शाहिद ख़ाक़ान अब्बासी से मुलाक़ात की जिसमें द्विक्षीय व अंतर्राष्ट्रीय मुद्दों पर चर्चा हुई। इस मुलाक़ात में सेना प्रमुख जनरल क़मर जावेद बाजवह, आईएसआई के महानिदेशक, विदेश मंत्री, गृह मंत्री, रक्षा मंत्री तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे। रेक्स टिलरसन ने कहा कि पाकिस्तान क्षेत्र में शांति व स्थिरता और गहरे आर्थिक संबंधों अवसर पैदा करने के हमारे संयुक्त लक्ष्यों के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।

Tags:    
Share it
Top