Home > नवाज शरीफ को अयोग्य घोषित करना न्याय की हत्या - मरियम नवाज

नवाज शरीफ को अयोग्य घोषित करना न्याय की हत्या - मरियम नवाज

 Vikas Kumar |  2017-11-04 11:45:38.0  |  इस्लामाबाद

नवाज शरीफ को अयोग्य घोषित करना न्याय की हत्या - मरियम नवाज

इस्लामाबाद : पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ अपने खिलाफ भ्रष्टाचार के मामलों में चल रही सुनवाई के संबंध में शुक्रवार को भ्रष्टाचार-रोधी अदालत में पेश हुए। अदालत ने नवाज शरीफ, उनकी बेटी और दामाद के खिलाफ पनामा पेपर कांड से जुड़े भ्रष्टाचार के मामलों की सुनवाई 7 नवंबर तक के लिए स्थगित कर दी।

वहीं नवाज शरीफ की बेटी और पीएमएल-एन नेता मरियम नवाज ने कहा नवाज शरीफ को पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने जल्दबाजी में अयोग्य ठहरा दिया। उन्होंने कोर्ट के इस फैसले को न्याय की हत्या करार दिया।

दरअसल भ्रष्टाचार निरोधक अदालत ने भ्रष्टाचार के तीन मामलों में शरीफ को दोषारोपित किया है जो विदेश एवं अन्य बाहरी कंपनियों में उनके निवेश से जुड़ा हुआ है। सुप्रीम कोर्ट ने पनामा पेपर्स कांड में 28 जुलाई को 67 वर्षीय प्रधानमंत्री को अयोग्य ठहरा दिया था जिसके बाद मामले दर्ज किए गए।

सुप्रीम कोर्ट द्वारा अयोग्य घोषित किए जाने के बाद नवाज शरीफ को जुलाई में प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा था। शीर्ष अदालत के फैसले के बाद राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो ने 8 सितंबर को शरीफ, उनके बच्चों और दामाद के खिलाफ 3 मामले दर्ज किए थे।

मरियम नवाज ने एक न्यूज चैनल से बातचीत में कहा कि उनके पिता को अयोग्य ठहराया गया है लेकिन उनके शत्रुओं के कई प्रयासों के बावजूद वह बदनाम नहीं हुए हैं। कहा जाता है कि शरीफ ने मरियम को अपने राजनीतिक उत्तराधिकारी के तौर पर तैयार किया है।

Tags:    
Share it
Top