Home > उत्तर कोरिया हमले की लगातार कोशिश में है, इधर अमेरिकी राष्ट्रपति ने भी चेताया उत्तर कोरिया को

उत्तर कोरिया हमले की लगातार कोशिश में है, इधर अमेरिकी राष्ट्रपति ने भी चेताया उत्तर कोरिया को

नार्थ कोरिया अमेरिका को लेकर लगातार सख्‍त होता नजर आ रहा है। हाइड्रोजन टेस्‍ट के बाद नार्थ कोरिया जिस तरह से जापान के ऊपर से एक माह में दूसरी बार मिसाइल दागी है उसके बाद से जापान में तनाव नजर आया।

 आनंद शुक्ल |  2017-09-16 11:18:17.0  |  नई दिल्ली

उत्तर कोरिया हमले की लगातार कोशिश में है, इधर अमेरिकी राष्ट्रपति ने भी चेताया उत्तर कोरिया को

नार्थ कोरिया अमेरिका को लेकर लगातार सख्‍त होता नजर आ रहा है। हाइड्रोजन टेस्‍ट के बाद नार्थ कोरिया जिस तरह से जापान के ऊपर से एक माह में दूसरी बार मिसाइल दागी है उसके बाद से जापान में तनाव नजर आया। उत्तर कोरिया के सांस्‍कृतिक संबंधों के विशेष प्रतिनि‍धि एजेग्‍जेंड्रा काओ डि बेनो का कहना है कि हमले की सूरत में उत्तर कोरिया अमेरिका पर हाइड्रोजन बम गिराने को तैयार है। इतना ही नहीं उन्होंने यह भी चेतावनी दे डाली है कि उत्तर कोरिया आज की तारीख में अमरीका के किसी भी शहर को निशाना बनाने में सक्षम है।

उन्‍होंने यह बात बीबीसी से एक बातचीत में कही है। उत्तर कोरिया के लगातार अडियल रवैये के बाद रूस के राष्‍ट्रपति व्‍लादिमीर पुतिन ने तीसरा विश्‍व युद्ध छिड़ने तक की आशंका जाहिर की थी। ऐसे में एक बड़ा सवाल यह भी है कि यदि युद्ध हुआ तो भारत आखिर किसका साथ देगा।

इससे पहले जुलाई में नॉर्थ कोरिया पहली इंटर कॉन्टिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल (ICBMs) का परीक्षण किया था, इसके बाद जुलाई में ही हाइड्रोजन बम का परीक्षण किया और दुनिया को अपने घातक हथियारों से सकते में डाल दिया था। इसके बाद अमेरिका समेत कई देशों ने किम जोंग के इस कदम की निंदा की और नॉर्थ कोरिया के परमाणु कार्यक्रमों पर पूरी तरह से पाबंदी लगाने की चेतावनी दी थी।

इस बारे में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने विश्वास जताया कि उत्तर कोरिया की तरफ से संभावित खतरे के प्रति अमेरिका भी मुंहतोड़ जवाब देने को तैयार है। उसने भी अपने सभी विकल्प खुले रखे हैं।अमेरिकी एयरफोर्स के 70वीं वर्षगांठ पर एयरफोर्स के जवान व परिजनों को संबोधित करते हुए ट्रंप ने कहा,'आपकी क्षमताओं और प्रतिबद्धता को देखते हुए मैं पहले की तुलना में आज अधिक आश्‍वस्‍त हूं कि इस खतरे से निपटने में हमारे विकल्‍प प्रभावी और बेहतर हैं।'

ट्रंप ने बताया कि अमेरिका व इसके सहयोगियों को कभी कुछ नहीं होगा। 'हम अपने लोगों और देशों का उनसे बचाव करेंगे जो हमें डराने-धमकाने की कोशिश करते हैं। इसमें उत्‍तर कोरिया शामिल है, जो एक बार फिर अपने पड़ोसी व पूरे विश्‍व समुदाय से टक्‍कर लेने की कोशिश कर रहे हैं।

Tags:    
Share it
Top