Home > परवेज मुशर्रफ ने स्वीकारा, 'मैं हाफिज सईद और लश्कर-ए-तैयबा का सबसे बड़ा समर्थक'

परवेज मुशर्रफ ने स्वीकारा, 'मैं हाफिज सईद और लश्कर-ए-तैयबा का सबसे बड़ा समर्थक'

मुशर्रफ ने कहा कि मैं लश्कर ए तैयबा का सबसे बड़ा समर्थक हूं और जानता हूं कि वह भी मुझे पसंद करते हैं, जमात-उल-दावा भी मुझे पसंद करता है।

 Arun Mishra |  2017-11-29 04:57:58.0  |  New Delhi

परवेज मुशर्रफ ने स्वीकारा, मैं हाफिज सईद और लश्कर-ए-तैयबा का सबसे बड़ा समर्थक

इस्लामाबाद : पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ ने खुलेआम एक टीवी चैनल पर स्वीकार किया किया है कि मैं हाफिज सईद और लश्कर-ए-तैयबा का सबसे बड़ा समर्थक हूं। मुशर्रफ ने पाकिस्तान के ARY न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा कि मैं लश्कर ए तैयबा का सबसे बड़ा समर्थक हूं और जानता हूं कि वह भी मुझे पसंद करते हैं, जमात-उल-दावा भी मुझे पसंद करता है।


इंटरव्यू में मुशर्रफ ने यह भी कहा कि कश्मीर में भारतीय सेना को दबाने और एक्शन में रहने का सपोर्ट पहले से करता आया हूं। अमेरिका के साथ मिलकर भारत ने लश्कर-ए-तैयबा को आतंकी घोषित कर दिया, लेकिन यह संगठन सबसे बड़ी फोर्स है।

मुशर्रफ ने आग उगलना यही बंद नहीं किया बल्कि यह भी कहा कि जी हां, लश्कर ए तैयबा कश्मीर में ही है और यह हमारे और कश्मीर के बीच का मामला है। उन्होंने कहा कि मैं कश्मीर में LeT द्वारा की जा रही कार्रवाई और भारतीय सेना को दबाने के समर्थन में हूं। मुशर्रफ ने LeT को कश्मीर में एक्टिव सबसे बड़ी फोर्स तक बता दिया।

आपको बता दें पाकिस्तान के पूर्व तानाशाह मुशर्रफ इससे पहले भी बड़ा खुलासा कर चुके हैं। पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ ने न सिर्फ ओसामा बिन लादेन, अल जवाहिरी और हक्कानी को पाकिस्तान का हीरो बताया था बल्कि तालिबान और लश्कर-ए-तैयबा जैसे आतंकवादी संगठन को पैसे और ट्रेनिंग की बात भी कबूल चुके हैं। मुशर्रफ ने कश्मीर में आतंकवादी भेजे जाने और उन्हें पाकिस्तान से पूरी मदद का खुलासा भी किया था।

Tags:    
Share it
Top