Home > सऊदी अरब पछतायेगा यमन पर हमले से

सऊदी अरब पछतायेगा यमन पर हमले से

 Majid Khan |  2017-10-02 08:45:02.0  |  यमन

सऊदी अरब पछतायेगा यमन पर हमले से

सऊदी अरब द्वारा यमन पर हमले के मद्दे नज़र यमन के पूर्व राष्ट्रपति सालेह ने कहा कि सऊदी अरब को चाहिये कि यमन पर हमला करने के बजाये वह यमनियों की ओर दोस्ती का हाथ बढ़ाये यमन के पूर्व राष्ट्रपति और यमन की कांग्रेस पार्टी के वर्तमान अध्यक्ष ने कहा है कि यमन पर हमले से सऊदी अरब पछतायेगा।

साथ ही उन्होंने सऊदी अरब से मांग की है कि वह यमन से निकल जाये। अली अब्दुल्लाह सालेह ने रविवार को कहा कि सऊदी अरब को चाहिये कि यमन पर हमला करने के बजाये वह यमनियों की ओर दोस्ती का हाथ बढ़ाये।

ज्ञात रहे कि सऊदी अरब ने अमेरिका के समर्थन से और संयुक्त राष्ट्रसंघ के मौन की छत्रछाया में 26 मार्च 2015 से यमन पर हमला किया था जो अब तक जारी है। सऊदी अरब के पाश्विक हमलों में अब तक 12 हज़ार से अधिक यमनी मारे जा चुके हैं जबकि दसियों हज़ार घायल और लाखों यमनी बेघर हो चुके हैं। इसी प्रकार सऊदी अरब के इन हमलों में यमन की अधिकांश आधारभूत संरचनाएं बताह हो गयी हैं।

निर्धन देश यमन पर सऊदी अरब के हमलों के कारण वहां खाद्य पदार्थों और दवाओं की भारी कमी का सामना है और हैजा व महामारी जैसी विभिन्न प्रकार की बीमारियों व समस्याओं का सामना है।

Tags:    
Share it
Top