Home > विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पांच देशों के साथ मिलकर आर्थिक संबंधों को बेहतर बनाने के लिए की चर्चा

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पांच देशों के साथ मिलकर आर्थिक संबंधों को बेहतर बनाने के लिए की चर्चा

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने द्विपक्षीय सहयोग और भारत के विकास एजेंडा को आगे बढ़ाने के मकसद से, संयुक्त राष्ट्र महासभा से इतर पांच देशों के अपने समकक्षों के साथ बैठक की।

 आनंद शुक्ल |  2017-09-19 11:40:56.0  |  नई दिल्ली

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पांच देशों के साथ मिलकर आर्थिक संबंधों को बेहतर बनाने के लिए की चर्चा

न्‍यूयार्क: विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने द्विपक्षीय सहयोग और भारत के विकास एजेंडा को आगे बढ़ाने के मकसद से, संयुक्त राष्ट्र महासभा से इतर पांच देशों के अपने समकक्षों के साथ बैठक की। जिसमें लातविया के विदेश मंत्री एडगर्स रिनकेविक्स के साथ व्यापार संबंधों के विस्तार पर चर्चा की गई।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा, 'विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने उत्तर कोरिया की हालिया कार्रवाई की निंदा की। साथ ही कहा कि उसकी प्रसार संबंधी गतिविधयों का पता लगाया जाना चाहिए और इसके लिए जो जिम्मेदार हैं, उन्हें जवाबदेह ठहराया जाना चाहिए। सुषमा ने यह बयान अमेरिका के विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन और उनके जापानी समकक्ष तारो कोनो के साथ यूएन जनरल असेंबली के सेशन के दौरान दिया।

पाकिस्तान का नाम लिए बिना रवीश कुमार ने कहा, 'मुझे लगता है कि मैं आपको पर्याप्त सामग्री दे रहा हूं ताकि यह पता लगा सकें कि मैं किसकी बात कर रहा हूं। उन्होंने कहा, 'हमने बहुत स्पष्ट तौर पर यह कहा है कि हम केवल उत्तर कोरिया के हालिया कदमों की निंदा नहीं कर रहे। बल्कि यह भी कहा है कि प्रसार संबंधी गतिविधयों का पता लगाया जाना चाहिए और इसके लिए जो जिम्मेदार हैं, उनकी जवाबदेही तय की जानी चाहिए।

यह माना जाता रहा है कि पाकिस्तान ने ही उत्तर कोरिया के परमाणु कार्यक्रम के फलने-फूलने में मदद की। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि विदेश मंत्री ने उत्तर कोरिया के हालिया गतिविधियों की निंदा की और कहा कि उसके परमाणु प्रसार संबंधों की जांच की जानी चाहिए और इसमें शामिल देशों को जवाबदेह ठहराया जाना चाहिए।

Tags:    
Share it
Top