Top
Begin typing your search...

झारखंड विधानसभा चुनाव : आखिरी चरण में 16 सीटों पर वोटिंग जारी, पूर्व सीएम हेमंत सोरेन की किस्मत का होगा फैसला

झारखंड के मौजूदा 2 मंत्रियों और पूर्व सीएम हेमंत सोरेन की किस्मत का फैसला भी इसी दौर में है।

झारखंड विधानसभा चुनाव : आखिरी चरण में 16 सीटों पर वोटिंग जारी, पूर्व सीएम हेमंत सोरेन की किस्मत का होगा फैसला
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

झारखंड में विधानसभा चुनाव (Jharkhand Assembly Elections) के लिए आज पांचवें और आखिरी दौर (Fifth Phase) का मतदान (Voting) हो रहा है। 16 सीटों पर हो रही वोटिंग के लिए मैदान में कुल 236 उम्मीदवार हैं। झारखंड के मौजूदा 2 मंत्रियों और पूर्व सीएम हेमंत सोरेन की किस्मत का फैसला भी इसी दौर में है। पांच दौर में हो झारखंड विधानसभा चुनाव के नतीजे 23 दिसंबर को आएंगे। पांचवें और आखिरी चरण (Fifth Phase) में संथाल क्षेत्र की 16 विधानसभा सीटों पर वोटिंग हो रही है।

संथाल क्षेत्र को झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM) का गढ़ माना जाता है। इस चरण में 40,05,287 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। जिन 16 सीटों पर वोटिंग हो रही है, उनमें सात सीटें अनुसूचित जनजाति के लिए सुरक्षित हैं। साल 2014 के विधानसभा चुनावों में इनमें से छह JMM ने और पांच BJP ने जीती थीं।

शांतिपूर्ण और सही तरीके से वोटिंग को संपन्न कराने के लिए चुनाव आयोग ने इस चरण में 5,389 मतदान केंद्र बनाए गए हैं, जिनमें शहरी क्षेत्र में 269 और ग्रामीण क्षेत्र में 5,120 मतदान केंद्र स्थित हैं। इस चरण में 20,49,921 पुरुष, 19,55,336 महिला और 30 थर्ड जेंडर के मतदाता है। 93,779 नए मतदाता (18-19 साल के) हैं। इसके अलावा 80 साल से ज्यादा आयु के 41,505 और 49,446 दिव्यांग मतदाता शामिल हैं। मतदान सुबह 7 बजे से जारी है। नक्सल प्रभावित दोपहर बोरियो, बरहेट, लिट्टीपाड़ा, महेशपुर और शिकारीपाड़ा में दोपहर 3 बजे और बाकी 11 सीटों पर शाम 5 बजे तक मतदान होगा।

पांचवें और अंतिम चरण में राज्य के 6 जिलों की 16 विधानसभा सीटों पर वोटिंग हो रही है। इनमें साहेबगंज जिले में राजमहल, बोरियो और बरहेट, पाकुड़ जिले में लिट्टीपाड़ा, पाकुड़ और महेशपुर, जामताड़ा जिले में नाला और जामताड़ा, दुमका जिले में शिकारीपाड़ा, दुमका, जामा और जरमुंडी, देवघर जिले में सारठ और गोड्डा जिले में पोडैयाहाट, गोड्डा और महगामा विधानसभा सीटें शामिल हैं। राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी विनय कुमार चौबे के मुताबिक पांचवें चरण में 1717 मतदान केन्द्रों को अति संवेदनशील और 1,973 संवेदनशील घोषित किया गया है। इन मतदान केन्द्रों पर सशस्त्र जवानों की तैनाती की गई है। इस चरण में पूर्व मुख्यमंत्री और झारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन, राज्य के कई मंत्रियों और झारखंड विकास मोर्चा के प्रदीप यादव की किस्मत दांव पर है। सोरेन बरहेट और दुमका दोनों सीटों से चुनाव मैदान में हैं।

Special Coverage News
Next Story
Share it