Home > अगर आप है KISS करने में माहिर तो आपको भी मिल सकता है अवार्ड, भारत में इस राज्य में होता है कॉन्टेस्ट

अगर आप है KISS करने में माहिर तो आपको भी मिल सकता है अवार्ड, भारत में इस राज्य में होता है कॉन्टेस्ट

भारतीय समाज में भले ही पब्लिक में 'किस' करना स्वीकार नही किया गया हो लेकिन भारत में एक ऐसा राज्य है जहां गांव के मेले में एक ऐसी प्रतियोगिता होती है जिसमें शादीशुदा जोड़े पब्लिकली एक-दूसरे में किस करते है।

 आनंद शुक्ल |  2017-12-11 06:36:30.0  |  नई दिल्ली

अगर आप है KISS करने में माहिर तो आपको भी मिल सकता है अवार्ड, भारत में इस राज्य में होता है कॉन्टेस्ट

झारखंड: भारतीय समाज में भले ही पब्लिक में 'किस' करना स्वीकार नही किया गया हो लेकिन भारत में एक ऐसा राज्य है जहां गांव के मेले में एक ऐसी प्रतियोगिता होती है जिसमें शादीशुदा जोड़े पब्लिकली एक-दूसरे में किस करते है। झारखंड के रांची से 321 किमी दूर पाकुड़ जिलेे डुमरिया सिद्धो कान्हु मेले में हुआ। इस प्रतियोगिता का नाम 'किस कम्पीटिशन' है। इसमें दर्जनों शादीशुदा महिला-पुरुष ने हिस्सा लिया और अपने-अपने साथी को किस किया। प्रतियोगिता के नियमों के मुताबिक प्रतिभागियों को बिना शर्माएं एक-दूसरे को किस करते हुए अपने लक्ष्य तक पहुंचना होता है। जिसके बाद इसमें तीन कपल्स को विनिंग प्राइज भी दिया गया।

बता दें यह प्रतियोगिता बिहार-झारखंड बॉर्डर स्थित पाकुर में देखने को मिला। जहां आदिवासियों की संख्या काफी अधिक है और आए दिन इन लोगों के बीच किसी ना किसी बात को लेकर विवाद चलता रहता है तो हर साल यहां एक मेले का आयोजन किया जाता है। मेले के आयोजन में चुंबन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। जिसमें विधायक साइमन मरांडी और प्रो. स्टीफन मरांडी के साथ-साथ दर्जनों लोग उपस्थित थे।

इस प्रतियोगिता के बारे में जब विधायक से बातचीत की गई तो उन्होंने कहा कि इस जगह आदिवासियों की संख्या काफी अधिक है और आदिवासी एक दूसरे से प्यार करने और इजहार करने में संकोच करते हैं। इसीलिए प्रेम और आधुनिकता को बढ़ावा देते हुए ये प्रतियोगिता का आयोजन करवाया गया है। पहली बार आयोजित चुंबन प्रतियोगिता में 18 जोड़ों ने हिस्सा लिया। प्रतियोगिता में भाग लेने वाले प्रतियोगी ने हजारों लोगों की मौजूदगी में निसंकोच करते हुए अपनी-अपनी पत्नी को घंटों तक चूमा और सबसे ज्यादा लंबे समय तक चुम्मा लेने वाले तीन जोड़ों को पुरस्कृत भी किया गया। ये प्रतियोगिता लिट्‌टीपाड़ा के विधायक साइमन मरांडी के गांव ताल पहाड़ी में हुआ।

आपको बता दें कि मेले में आयोजित चुंबन प्रतियोगिता को देखने के लिए यहां हजारों लोग अपनी निगाहें जमाए हुए थे, वहीं आदिवासी इस कार्यक्रम के बाद पहाड़िया नृत्य, गीत, लांगड़े नाच का भी आयोजन किया गया। जिस कार्यक्रम में झामुमो जिलाध्यक्ष श्याम यादव सहित कई नेता मौजूद थे। तो झारखंड मुक्ति मोर्चा के विधायक के इस कार्यक्रम को निंदा करते हुए भाजपा विधायक साहेब हांसदा ने चुंबन प्रतियोगिता की निंदा की है।

Tags:    
Share it
Top