Home > Archived > पढ़ें, इन 5 सवालों का जवाब एक ही है और वो है नींद!

पढ़ें, इन 5 सवालों का जवाब एक ही है और वो है नींद!

 Special News Coverage |  7 April 2016 8:59 AM GMT

पढ़ें, इन 5 सवालों का जवाब एक ही है और वो है नींद!

नई दिल्ली: सबसे पहले आपको ये बता दूँ ऐसा माना जाता है की हर मुसीबत का हल नींद नहीं है और हर सवाल का जवाब भी नींद नहीं है। लेकिन कुछ समस्याओं का हल नींद ज़रूर है और अगर आप सो जाओगे तो आपकी भी और आस-पास वालों की भी काफ़ी मुश्किलें हल हो जाएँगी। आज हम आपको बताते है की वो कौन से 5 सवाल है जिनका जवाब आप नींद ही देंगे।

1) अगर आप किसी गहरी चिंता में हो
अगर आप किसी गहरी चिंता में हो और आपसे कहा जाए की चिंता करना छोड़ दो या आप जिस चिंता में है उसे भूल जाओ तो आप मानोगे नहीं तो इस परिस्थिति में सबसे अच्छा उपाए होता है सोना। इसीलिए ऐसे परिस्थिति में सो ही जाओ इससे दिमाग़ थोड़ा शांत होता है और शांति भी मिलेगी तो आप ठीक से सोच पाओगे और उसका हल ढूँढ पाओगे।


2) अगर काम में एफिशिएंसी बढ़ानी है
आप लगातार काम करते करते थक जाते हो और आपका अचानक से काम में से मन हट जाता है या काम में मन नहीं लगता तो फिर बॉस की डाँट खानी पड़ेगी, आपको हज़ार दिक्कतें होंगी ऐसे परिस्थिति से बचने के लिए सो जाना ही सही रहता है या एक छोटा सा नैप ले लो क्योंकि अगर काम में मन ना लगे तो काम ढंग से नहीं होता है।

3) अगर आपको कोई फ़ैसला लेना है
अगर आप बहुत सोच विचार के बाद भी किसी चीज़ का सही फैसला नहीं लेते पाते या कोई ख़ास फैसला लेना हो तो थोडा आराम ज़रूरी होता है इसीलिए ऐसे परिस्थिति में थोड़ी देर के लिए सो जाना बेहतर होता है शायद इससे कुछ फ़ायदा हो जाए।

4) अगर बहुत थकान है
आगरा आपने दिन भर काफ़ी काम किया, तो दौड़-भाग की थकान होना तो मुमकिन ही है। इसकी वजह से कोई काम भी ठीक से नहीं हो पायेगा, इसीलिए थकान मिटाने का सबसे सही तरीका है सो जाना। जी हाँ अगर थकान खत्म न हो तो पूरा दिन ख़राब जाता है। अपनी सेहत की ही खातिर सो जाओ।

5) अगर आप बहुत ग़ुस्से में हो
आप को बता दे की गुस्से से नुक्सान दुसरो को नहीं अपना ही होता है तो अगर आपको गुस्से को जल्दी खत्म करना है तो एक ही रास्ता है, थोड़ी देर के लिए सो जाना। इससे थोड़ी देर में आपका गुस्सा भी ठंढा हो जाएगा।

क्या आपको पता है कि सबसे खराब तरह की नींद क्या है? क्या वह है जिसमें आप देर रात तक जागने के बाद कहीं जाकर सोते हैं या फिर वह है जिसमें रात भर आप सोते-जागते रहते हैं?

हम आपको बता दे कम नींद लेने से दिमाग सही तरह काम नहीं कर पाता है। इसका प्रभाव हमारी याददाश्त पर भी पड़ता है। इसके अलावा, पढ़ने, सीखने व निर्णय लेने से संबंधित समस्याएं औऱ भावनात्मक कमजोरी भी पैदा हो सकती है। इसिलए नींद हमारे सेहत के लिए जरुरी है। कम से कम 6 घंटे या ज्यादा से ज्यादा 8 घंटे नींद लेना चाहिए। जिस तरह हमें खाना खाने के बाद पानी की जरूरत होती है ठीक उसी तरह स्वस्थ रहने के लिए भी नींद की जरूरत होती है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top