Top
Home > लाइफ स्टाइल > प्रेग्नेंसी के दौरान भूल से भी न करें इन कामों को !

प्रेग्नेंसी के दौरान भूल से भी न करें इन कामों को !

 Shiv Kumar Mishra |  16 Jan 2020 4:32 AM GMT  |  दिल्ली

प्रेग्नेंसी के दौरान भूल से भी न करें इन कामों को !
x

खूबसूरत दिखने के लिए मेकअप करना जरूरी है लेकिन प्रेंग्नेंसी यानी गर्भावस्था के दौरान मेकअप करने में कुछ सावधानियां बरतने की जरूरत होती है। ब्यूटी प्रॉडक्ट्स बनाने में ऐसी कई ऐसी चीजों का इस्तेमाल किया जाता है, जो आपकी स्किन से अंदर जाकर आप के पेट में पल रहे बच्चे को नुकसान पहुंचा सकती हैं। एक शोध के मुताबिक जो महिलाएं प्रेग्नेंसी के दौरान बहुत अधिक मेकअप का इस्तेमाल करती हैं, उनमें समय से पहले प्रसव यानी प्रीमच्योर बेबी होने की आशंका रहती है। इसके अलावा शिशु के वजन और आकार पर भी असर पड़ता है। लिहाजा हम आपको उन ब्यूटी प्रॉडक्ट्स के बारे में बता रहे हैं जिनका इस्तेमाल प्रेग्नेंसी के दौरान नहीं करना चाहिए...

डियोड्रेंट और परफ्यूमप्रेंग्नेंसी के दौरान ज्यादा खुशबू वाले प्रॉडक्ट्स जैसे डियो, परफ्यूम, रूम फ्रेशनर आदि का इस्तेमाल कम करें या फिर करें ही नहीं। ज्यादातर डियो में हानिकारक केमिकल्स का इस्तेमाल किया जाता है, जो स्किन के अंदर प्रवेश कर आप या आप के होने वाले बच्चे को नुकसान पहुंचा सकते हैं। इससे शिशु के हॉर्मोन्स में गड़बड़ी पैदा हो सकती है।

लिपस्टिक में होता है लेड

प्रेग्नेंट महिला को लिपस्टिक लगाने से बचना चाहिए, क्योंकि यह मां और होने वाले बच्चे दोनों के लिए बेहतर होगा। लिपस्टिक में lead होता है, जो खाने-पीने के दौरान शरीर के अंदर चला जाता है। शरीर में लेड, भ्रूण के विकास में बाधा बन सकता है या उसमें और कई परेशानियां पैदा कर सकता है।

सनस्क्रीन मॉइश्चराइजर

अमूमन महिलाएं सनस्क्रीन लगाए बिना बाहर नहीं निकलतीं, लेकिन प्रेग्नेंसी के दौरान इसका इस्तेमाल कम से कम करें। ज्यादातर सनस्क्रीन में रैटिनील पामिटेट या विटमिन पामिटेट होता है। ये तत्त्व धूप के संपर्क में आने पर त्वचा से रिऐक्शन करते हैं। लंबे समय तक इस्तेमाल करने से कैंसर का कारण भी बनते हैं इसलिए गर्भावस्था के दौरान सनस्क्रीन के इस्तेमाल से पहले चेक कर लें कि आप जो सनस्क्रीन इस्तेमाल करने जा रही हैं उसमें ये दोनों तत्त्व मौजूद तो नहीं हैं।

हेयर रिमूवर क्रीम

हेयर रिमूवर क्रीम में थियोग्लाइकोलिक ऐसिड पाया जाता है, जो गर्भावस्था में हानिकारक साबित हो सकता है। इस दौरान शरीर में कई तरह के हॉर्मोन्स परिवर्तन होते हैं, जिन के कारण केमिकल युक्त हेयर रिमूविंग क्रीम का इस्तेमाल करने से त्वचा में ऐलर्जी हो सकती है और होने वाले बच्चे को भी नुकसान पहुंच सकता है। इसलिए खुद की और होने वाले बच्चे की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए इसका इस्तेमाल न करें।

फेयरनेस क्रीम

अगर आप किसी भी फेयरनेस क्रीम का प्रयोग करती हैं, तो प्रेग्नेंसी के दौरान इसके प्रयोग से बचें, क्योंकि इसका इस्तेमाल आपके और होने वाले बच्चे दोनों के लिए खतरनाक हो सकता है। इन क्रीम्स में हाइड्रोक्यूनोन नाम का एक केमिकल मिलाया जाता है जो जन्म से पहले शिशु के ऊपर गलत प्रभाव डाल सकता है, इसलिए गोरा करने वाली क्रीम प्रेग्नेंसी के दौरान बिलकुल यूज न करें।

टैटू भी न करवाएं

टैटू आजकल युवा लड़के लड़कियों में काफी ट्रेंडी है। प्रेग्नेंसी के समय या उसकी प्लानिंग कर रही हैं, तो टैटू न गुदवाएं वरना वह आपके लिए खतरनाक हो सकता है क्योंकि टैटू कई बार इंफेक्शन का कारण भी बनता है। टैटू बनाने में प्रयोग किए जाने वाले केमिकल्स भी त्वचा के लिए सुरक्षित नहीं माने जाते हैं गर्भावस्था के दौरान टैटू बनवाने से परहेज करें।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it