Home > राज्य > मध्यप्रदेश > इंदौर > हनी ट्रैप इंदौर: जांच में 96 वीडियो और पोर्न फिल्में मिली, 24 कांग्रेस नेता की और 72 में सब

हनी ट्रैप इंदौर: जांच में 96 वीडियो और पोर्न फिल्में मिली, 24 कांग्रेस नेता की और 72 में सब

 Special Coverage News |  23 Sep 2019 6:31 AM GMT  |  दिल्ली

हनी ट्रैप इंदौर: जांच में 96 वीडियो और पोर्न फिल्में मिली,  24 कांग्रेस नेता की और 72 में सब

इंदौर के हनी ट्रेप मामले में भारतीय जनता पार्टी की पुरानी सरकार के मंत्रियों और आईएएस अफसरों के ऑडियो और वीडियो सामने आने के बाद इस कड़ी में कांग्रेस नेताओं का नाम भी जुड़ गया है। जांच से जुड़े सूत्रों की मानें, तो पुलिस को 96 वीडियो और पोर्न फिल्में मिली हैं। उनमें सबसे ज्यादा 24 वीडियो कांग्रेस के एक दिग्गज नेता के मिले हैं। सत्ता के रसूख से जुड़े दो कारोबारियों के नाम भी इस कड़ी में जुड़े हैं। एक का वीडियो भोपाल और दूसरे का इंदौर में बनाया गया था।

यह खुलासा पुलिस को जांच के दौरान मिले तमाम तकनीकी साक्ष्यों के आधार पर हुआ है। मजेदार बात तो यह है कि पुलिस ने इन सबूतों को एकत्रित कर अपने पास तो रख लिया है, लेकिनउसे ऑन रिकॉर्ड (दस्तावेजी साक्ष्य के तौर पर शामिल) नहीं किया है।वीडियो डेढ़ से दो साल पुराने बताए जा रहे हैं। पकड़ी गई जिस महिला ने वीडियो बनाया है, वह कांग्रेस के एक बड़े नेता की काफी करीबी रही है। दो ऐसे लोगों के वीडियो भी सामने आए हैं, जो कारोबार से जुड़े हैं। उनके कुछ ऑडियो भी सामने आए हैं। उनकी पकड़ी गई महिलाओं से लंबी बातचीत भी होती थी।...

इससे पहले मिली जानकारी के मुताबिक हनीट्रैप मामले में सबसे कम उम्र की आरोपी मोनिका यादव रविवार को थाने में बेहोश हो गई थी। वहां से पुलिसकर्मियों ने उन्हें अस्पताल पहुंचाया है। मोनिका और आरती दयाल की पुलिस रिमांड बढ़ा दी है। अब मोनिका और आरती दयाल 27 सितंबर तक पुलिस रिमांड पर रहेगी। इस दौरान पुलिस दोनों आरोपियों से सघन पूछताछ करेगी। रिमांड बढ़ने के बाद दोनों कोर्ट में फूट-फूटकर रो रही थीं।

जानकारी के अनुसार , पुलिस जब रिमांड की अवधि बढ़ने के बाद उन्हें कोर्ट से थाने ला रही थी तो रास्ते में भी दोनों खूब रो रही थीं। थाने पहुंचते ही मोनिका यादव बेहोश हो गई। उसके बाद पुलिसकर्मियों ने आनन-फानन में मोनिका को अस्पताल पहुंचाया। जहां इलाज जारी है। आरोपियों के वकील ने कोर्ट में रिमांड अवधि बढ़ने के बाद आपत्ति भी जाहिर की। थाना प्रभारी ने कोर्ट में जज से कहा कि आरोपित महिलाओं को राजगढ़, छतरपुर और भोपाल ले जाना है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top