Top
Home > राज्य > महाराष्ट्र > मुम्बई > सोशल मीडिया पर शिवसेना और सीएम उद्धव ठाकरे के खिलाफ लिखने से पहले पढ़े यह खबर वरना भुगतना होगा परिणाम!

सोशल मीडिया पर शिवसेना और सीएम उद्धव ठाकरे के खिलाफ लिखने से पहले पढ़े यह खबर वरना भुगतना होगा परिणाम!

CM उद्धव ठाकरे के खिलाफ सोशल मीडिया पर लिखना मना है? शिवसेना कार्यकर्ताओं ने एक का किया मुंडन, दूसरे पर उड़ेली स्याही

 Shiv Kumar Mishra |  31 Dec 2019 5:56 AM GMT  |  मुंबई

सोशल मीडिया पर शिवसेना और सीएम उद्धव ठाकरे के खिलाफ लिखने से पहले पढ़े यह खबर वरना भुगतना होगा परिणाम!
x

महाराष्ट्र के बीड जिले में एक शख्स ने सीएम उद्धव ठाकरे पर विवादित पोस्ट किया था। इसकी जानकारी जब एक शिवसेना की महिला कार्यकर्ता को हुई तो उसने उस शख्स के ऊपर स्याही उड़ेल दी। बता दें कि इससे पहले वडाला के एक शख्स ने सीएम के खिलाफ सोशल मीडिया अपमानजनक टिप्पणी की थी, जिसके बाद शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने शख्स की पहले पिटाई की फिर उसका सिर मुंड़वा दिया था।

दरअसल शिवसेना की महिला कार्यकर्ता ने जिस शख्स पर स्याही डाली है वह एक सरकारी कर्मचारी है। यह मामला बीड का है। कहा जा रहा है कि इस शख्स ने फेसबुक पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की आलोचना की थी। इस घटना का वीडियो भी सामने आया है, जिसमें देखा जा सकता है कि एक महिला ने बोतल से उस आदमी के ऊपर स्याही डाल रही है।

बता दें कि सीएए के खिलाफ हो रहे प्रोटेस्ट को रोकने के लिए पुलिस जामिया मिल्लिया इस्लामिया के छात्रों पर लाठी चार्ज किया था और कथित तौर पर हॉस्टल में घुसकर तोड़फोड़ की गई थी। इसकी तुलना महाराष्ट्र सीएम उद्धव ठाकरे ने जालियांवाला बाग से की थी। इसके बाद वडाला निवासी हीरामणि तिवारी (30) नाम के शख्स ने उद्धव के लिए सोशल मीडिया पर अपशब्दों का इस्तेमाल किया। हीरामणि ने यह पोस्ट राहुल तिवारी नाम के फेसबुक अकाउंट से किया था। इस अकाउंट का इस्तेमाल लबे समय से वह कर रहा था। बता दें कि यह जानकारी पुलिस ने मीडिया को दी है।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि तिवारी ने जब सीएम के खिलाफ पोस्ट किया था तो उसे कुछ लोगों ने धमकी दी थी। जिसके बाद उसने वह पोस्ट डिलीट कर दी थी। लेकिन शिवसेना के नेता इस पोस्ट से इतने नाराज थे कि तिवारी को शांतिनगर में उसके घर के सामने पकड़ कर पिटाई कर दी, फिर उसके बाद सिर मुड़वा दिया। इस मामले में वडाला टीटी पुलिस ने सीआरपीसी धारा 149 के तहत दोनों पक्षों को नोटिस जारी किया। बता दें कि धारा 149 का इस्तेमाल पुलिस किसी भी संज्ञेय अपराध को रोकने के लिए करती है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it