Top
Home > राज्य > महाराष्ट्र > मुम्बई > क्या CM उद्धव, संजय राउत और शरद पवार के टैप होते थे फोन कॉल? जांच के आदेश

क्या CM उद्धव, संजय राउत और शरद पवार के टैप होते थे फोन कॉल? जांच के आदेश

पिछले दिनों इजरायल की पेगासस स्पाई वेयर द्वारा दुनिया के 1400 लोगों, जिसमें भारत के 40 और उसमें छत्तीसगढ़ के चार लोगों के, व्हाट्स एप कॉल हैक करने का मामला सामने आया था.

 Shiv Kumar Mishra |  24 Jan 2020 6:23 AM GMT  |  मुंबई

क्या CM उद्धव, संजय राउत और शरद पवार के टैप होते थे फोन कॉल? जांच के आदेश

मुंबई: महाराष्ट्र में राजनीति में एक बार फिर से फोन टैपिंग के आरोप शुरू हो गए हैं. आरोप लगे हैं कि बीजेपी मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, शिवसेना सांसद संजय राउत और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) प्रमुख शरद पवार के फोन टैप करवाती थी. संजय राउत ने ट्वीट कर आरोप लगाया है है, 'आपके फोन टैप हो रहे हैं. ये जानकारी मुझे बीजेपी के एक वरिष्ठ मंत्री ने भी दे रखी थी. मैने कहां था, भाई साहेब, मेरी बात अगर कोई सुनना चाहता है. तो स्वागत है. मैं बाला साहेब ठाकरे जी का चेला हूं. कोई बात या काम छुप छुपकर नहीं करता. सुनो मेरी बात.'

महाराष्ट्र सरकार ने दिए जांच के आदेश

मामले के तूल पकड़ने पर महाराष्ट्र (Maharashtra) सरकार में गृह मंत्री अनिल देशमुख ने फोन टैपिंग मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं. बताया गया है कि महाराष्ट्र की पूर्व सरकार पर आरोप हैं कि वह राजनेताओं के फोन टैप करवाती थी. इस मामले की जांच के लिए महाराष्ट्र पुलिस और साइबर सेल को दिया गया है.

कर्नाटक-छत्तीसगढ़ में भी लग चुके हैं फोन टैपिंग के आदेश

यहां आपको बता दें कि इससे पहले छत्तीसगढ़ और कर्नाटक में भी फोन टैपिंग के आरोप लग चुके हैं. केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने कर्नाटक में कथित तौर पर अवैध फोन टैपिंग का मामला दर्ज किए हैं. इस मामले में वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी आलोक कुमार के आवास की तलाशी भी ली जा चुकी है. आरोप थे कि वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी भास्कर राव, विधायकों, राजनेताओं व मंत्रियों का फोन कथित तौर पर टेप किया गया. ऐसा पूर्व मुख्यमंत्री एच.डी.कुमारस्वामी के कार्यकाल के दौरान हुआ.

इसके अलावा छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा स्मार्ट फोन की व्हाट्स एप कॉल रिकार्डिंग की जांच के लिए समिति बनाए जाने से राज्य में एक बार फिर सियासी उबाल आ चुका है. भाजपा ने जहां इस फैसले को हास्यास्पद करार दिया है, वहीं कांग्रेस ने भाजपा की पूर्ववर्ती सरकार पर लोगों की जासूसी कराने का आरोप लगाया है. पिछले दिनों इजरायल की पेगासस स्पाई वेयर द्वारा दुनिया के 1400 लोगों, जिसमें भारत के 40 और उसमें छत्तीसगढ़ के चार लोगों के, व्हाट्स एप कॉल हैक करने का मामला सामने आया था. इसके बाद से राज्य में हलचल है. इसे छत्तीसगढ़ सरकार ने गंभीरता से लेते हुए जांच के आदेश दिए हैं.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it