Top
Home > राज्य > महाराष्ट्र > मुम्बई > डिप्टी सीएम अजीत पवार को एनसीपी सुप्रीमों का बड़ा झटका, नेता विधायक दल से किये बर्खास्त

डिप्टी सीएम अजीत पवार को एनसीपी सुप्रीमों का बड़ा झटका, नेता विधायक दल से किये बर्खास्त

अभी अभी मिली जानकारी के मुताबिक़ बूढ़े शेर शरद पवार ने भतीजे अजीत पवार को उनकी औकात दिखाते हुए एनसीपी विधायक दल के नेता पद से हटा दिया है.

 Special Coverage News |  23 Nov 2019 2:24 PM GMT  |  मुंबई

डिप्टी सीएम अजीत पवार को एनसीपी सुप्रीमों का बड़ा झटका, नेता विधायक दल से किये बर्खास्त
x

अभी अभी मिली जानकारी के मुताबिक़ बूढ़े शेर शरद पवार ने भतीजे अजीत पवार को उनकी औकात दिखाते हुए एनसीपी विधायक दल के नेता पद से हटा दिया है. उनकी जगह पर एनसीपी सुप्रीमों शरद पवार ने अपने वफादार जयंत पाटिल को NCP विधायक दल के नए नेता के रूप में मंजूरी दे दी है.

फिलहाल बीजेपी एनसीपी सरकार अब संकट में आ गिया है चूँकि एनसीपी की ताकत पर बीजेपी ने अपनी सरकार बनाई. लेकिन जिस तरह से रातोंरात बीजेपी ने शिवसेना , एनसीपी और कांग्रेस को पैदल किया उससे सभी बैचेन हो गए उससे सुबह से लेकर अब तक कई मोड़ आये है. शरद पवार ने जब अपने कब्जे में 54 में से 51 विधायक ले लिए तब जाकर एनसीपी के नेता पद से अजीत पवार को बर्खास्त किया है. चूँकि अजीत पवार अभी शरद पवार की तरह परिपक्व राजनीतक हस्ती नहीं थे. मिडिया के बार बार सवाल पूंछने पर भी मुस्करा कर जबाब देते रहे लेकिन ये नहीं कहा कि में अजीत पवार को नेता पद से हटा रहा हूँ तो ये खेल सुबह ही खत्म हो जाता.

उसके बाद पार्टी की मीटिंग में धीरे धीरे विधयाकों की संख्या बढती गई और जब संख्या पचास से ज्यादा हुई तो सभी को बस में बैठाकर यह निर्णय सुना दिया. अजित पवार पर एक्शन कर उनको पद से बर्खास्त करके दिलीप पाटिल को NCP विधायक दल के नए नेता के रूप में मान्यता दे दी.

यह एनसीपी की बड़ी कार्रवाई है. अजित पवार को एनसीपी के विधायक दल के नेता पद से हटाया गया है. अब उनके द्वारा दिया गया समर्थन पत्र भी झूंठ साबित हो जाएगा और राज्यपाल भी संदेह के घेरे में आ जायेंगे. क्योंकि उन्होंने समर्थन की तस्दीक क्यों नहीं की?

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it