Top
Home > राज्य > महाराष्ट्र > मुम्बई > शरद पवार बोले- जांच में पूरा सहयोग करेंगे, 27 को ईडी के सामने जाऊंगा

शरद पवार बोले- 'जांच में पूरा सहयोग करेंगे, 27 को ईडी के सामने जाऊंगा'

नैशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार ने अपने ऊपर लगे सहकारी बैंक घोटाले के आरोप पर कहा है कि वह ईडी की जांच में पूरा सहयोग करेंगे

 Special Coverage News |  25 Sep 2019 3:05 PM GMT  |  दिल्ली

शरद पवार बोले- जांच में पूरा सहयोग करेंगे, 27 को ईडी के सामने जाऊंगा
x

मुंबई : नैशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार ने अपने ऊपर लगे महाराष्ट्र सहकारी बैंक घोटाले के आरोपों पर अब 'मराठा कार्ड' खेला है। शरद पवार ने कहा कि बुधवार को कहा कि हम शिवाजी के अनुयायी हैं और दिल्ली के तख्त के आगे नहीं झुकेंगे। यही नहीं शरद पवार ने जांच से बचने के आरोपों पर जवाब देते हुए कहा कि वह खुद प्रवर्तन निदेशालय के दफ्तर जाएंगे। उन्होंने कहा कि वह 27 सितंबर को खुद ईडी के दफ्तर में जाएंगे और जांच के लिए उपस्थित रहेंगे। ईडी ने शरद पवार समेत 70 अन्य लोगों के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग समेत अन्य मामलों में केस दर्ज किया है। करीब 25 हजार करोड़ के इस घोटाले में पहले मुंबई पुलिस की ओर से भी एक एफआईआर दर्ज की गई थी।

जांच में पूरा सहयोग करूंगा

पवार ने कहा कि उन्हें मीडिया के जरिए यह पता चला है कि केंद्र सरकार की ईडी ने उनके खिलाफ मामला दर्ज किया है। उन्होंने कहा, 'मुझे यह कहने में कोई चिंता नहीं है कि आज तक मैं किसी कोऑपरेटिव या बैंक का संस्थागत सदस्य नहीं रहा हूं। यह जो बैंक के बारे में जांच शुरू हुई है, वह जांच करने वाली एजेंसी का अधिकार है। उन्हें जो सबूत देने की आवश्यकता है, उसमें जांच करने वाली एजेंसी को मैं पूरी तरह से सहयोग दूंगा।'

पवार ने यह भी कहा कि अगले महीने चुनाव हैं। ऐसे में वह ज्यादातर समय जिले में रहेंगे, लेकिन जांच के लिए उपस्थित रहेंगे। पवार ने कहा, 'ऐसी स्थिति में जांच करने वाली एजेंसी को मेरी उपस्थिति चाहिए हो तो उन्हें यह गलतफहमी न रहे कि मैं उपलब्ध नहीं हूं। मैं 27 सितंबर को दोपहर 2 बजे ईडी के दफ्तर में जाने वाला हूं। जो जांच करनी है उसके लिए उपस्थित रहने वाला हूं।' पवार ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि जो दिल्ली की हुकूमत है, उसके अधिकार का इस्तेमाल करने की बात किसी के मन में हो तो उन्हें इसकी चिंता नहीं है। उन्होंने कहा, 'इनका सामना खुले दिल से करूंगा।'

25 हजार करोड़ का घोटाला

बॉम्बे हाई कोर्ट ने महाराष्ट्र स्टेट कोऑपरेटिव बैंक घोटाला मामले में कोर्ट में पेश किए गए तथ्यों के आधार पर शरद पवार और अन्य आरोपियों पर एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया था। करीब 25 हजार करोड़ के इस मामले में मुंबई पुलिस ने पिछले महीने ही एक एफआईआर दर्ज की थी। साल 2007 से 2011 के बीच हुए इस घोटाले में महाराष्ट्र के विभिन्न जिलों के बैंक अधिकारियों को भी आरोपी बनाया गया है।

एनसीपी कार्यकर्ताओं ने ईडी दफ्तर के बाहर किया प्रदर्शन

शरद पवार और अन्य के खिलाफ एमएससीबी बैंक घोटाले के संबंध में मनी लॉन्ड्रिंग का मुकदमा दर्ज किए जाने के एनसीपी की यूथ विंग ने ईडी के दफ्तर के बाहर प्रदर्शन किया। पुलिस ने बताया कि पार्टी के पांच कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया है। एनसीपी की यूथ विंग के प्रांतीय प्रमुख मेहबूब शेख की अगुवाई में प्रदर्शनकारियों ने ईडी के दफ्तर के बाहर सत्ताधारी दल बीजेपी और सरकार के खिलाफ नारे लगाए। शेख ने दावा किया कि प्रदर्शन कर रहे पार्टी के सदस्यों पर पुलिस ने लाठी चलाई और बाद में उन्हें हिरासत में लिया।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it