Home > राज्य > महाराष्ट्र > मुम्बई > कांग्रेस के लिए शिवसेना बड़ी आपदा साबित होगी : संजय निरुपम

कांग्रेस के लिए शिवसेना 'बड़ी आपदा' साबित होगी : संजय निरुपम

महाराष्ट्र के राजनीतिक परिदृश्य के स्तंभ हाल की स्मृति में सबसे बड़े गतिरोधों में से एक के साथ काम कर रहे हैं। शिवसेना और बीजेपी दोनों मिलने से इनकार कर रहे हैं और चुनाव पूर्व गठबंधन टूटता दिख रहा है। इस सब के बीच कांग्रेस के रुख पर संजय निरुपम का कहना है।

 Special Coverage News |  10 Nov 2019 8:11 AM GMT

कांग्रेस के लिए शिवसेना

कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने रविवार को कहा कि कांग्रेस पार्टी को महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ सरकार बनाने के बारे में नहीं सोचना चाहिए क्योंकि यह पार्टी के लिए एक बड़ी आपदा होगी। उन्होंने यह भी कहा कि वर्तमान राजनीतिक अंकगणित के तहत महाराष्ट्र में कांग्रेस-एनसीपी के लिए सरकार बनाना असंभव है।

एक ट्वीट में, संजय निरुपम ने कहा, "महाराष्ट्र में वर्तमान राजनीतिक अंकगणित में, कांग्रेस-राकांपा के लिए कोई भी सरकार बनाना असंभव है। इसके लिए हमें शिवसेना की जरूरत है। और हमें शिवसेना के साथ किसी भी तरह सत्ता साझा करने के बारे में नहीं सोचना चाहिए।" परिस्थितियां यह है कि पार्टी के लिए विनाशकारी कदम होगा। "

इस बीच एनसीपी नेता, नवाब मलिक ने स्पष्ट कर दिया है कि अगर बीजेपी + शिवसेना सरकार बनाने में सक्षम नहीं है तो कांग्रेस + एनसीपी एक प्रयास करेगी। एनसीपी थिंक टैंक 12 नवंबर को बैठक करेगा और सरकार बनाने के लिए एक कदम आगे बढ़ाने की संभावनाओं पर चर्चा करेगा। रिपोर्टों के अनुसार, कांग्रेस शरद पवार के साथ बातचीत कर रही है, जिन्होंने हाल ही में कहा था कि एनसीपी को विपक्ष में बैठने का फैसला मिल गया है और वे यही करने जा रहे हैं।

महाराष्ट्र में शिवसेना और भाजपा के चुनाव पूर्व गठबंधन ने शिवसेना के साथ मुख्यमंत्री पद पर अड़ंगा लगा दिया है और भाजपा ऐसा होने की किसी भी संभावना से इनकार कर रही है।शिवसेना प्रमुख के आवास के बाहर एक पोस्टर लगाया गया जिसमें लिखा है, "महाराष्ट्र को उद्धव ठाकरे जैसे सीएम की जरूरत है"।

महाराष्ट्र में शिवसेना सीएम पद पर ढाई ढाई साल के बंटवारे के पक्ष में है। दूसरी ओर, बीजेपी ने सीएम पद के किसी भी बंटवारे का वादा करने से इनकार किया है।

देवेंद्र फड़नवीस के आवास पर रविवार को एक उच्च स्तरीय बैठक हुई। राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने भाजपा को सदन के पटल पर बहुमत साबित करने के लिए आमंत्रित किया। उसी के बाद भाजपा से कोई संकेत नहीं मिले हैं। लेकिन फिलहाल बीजेपी के नेता देवेंद्र फड़नवीस के आवास पर इकठ्ठे हुए है..

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top