Top
Breaking News
Home > राज्य > महाराष्ट्र > महाराष्ट्र की राजनीति में आया नया मोड़,कांग्रेस मांग सकती है कुछ और अहम मंत्रालय

महाराष्ट्र की राजनीति में आया नया मोड़,कांग्रेस मांग सकती है कुछ और अहम मंत्रालय

 Sujeet Kumar Gupta |  28 Dec 2019 11:05 AM GMT  |  नई दिल्ली

महाराष्ट्र की राजनीति में आया नया मोड़,कांग्रेस मांग सकती है कुछ और अहम मंत्रालय

मुंबई। महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार में शामिल कांग्रेस खुश नहीं है. इसका कारण यह है कि कांग्रेस को लगता है कि उसे अहम मंत्रालय नहीं दिए गए हैं. शिवसेना नीत 'महा विकास अघाड़ी' सरकार में कांग्रेस भी शामिल है। मीडिया की खबरों और राज्य के विभिन्न नेताओं के बयानों से संकेत मिला है कि बारामती के विधायक महाराष्ट्र विकास अघाड़ी सरकार में उपमुख्यमंत्री के पद की दौड़ में आगे हैं।

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष बाला साहब थोराट ने शनिवार को कहा, 'कांग्रेस के पास अभी जितने मंत्रालय हैं, उनके अलावा उसे कुछ और अहम मंत्रालय चाहिए.' कांग्रेस ने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) और शिवसेना के सामने अपनी मांग रख दी है। सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस कुछ बड़े मंत्रालय चाहती है. गृह निर्माण, इंड्रस्ट्री, ग्रामीण विकास और कृषि जैसे मंत्रालयों पर कांग्रेस की नजर है. इनमें से कम से कम दो मंत्रालय कांग्रेस हर हाल में अपने खाते में चाहती है।

दिल्ली के सूत्रों के मुताबिक उद्धव ठाकरे सरकार में कांग्रेस को दिए जा रहे मंत्रालयों को लेकर कांग्रेस नेतृत्व खुश नहीं है। कांग्रेस नेतृत्व को लग रहा है कि शिवसेना और एनसीपी मिलकर महत्वपूर्ण मंत्रालय आपस में बांट ले रहे हैं, जबकि सच्चाई यह है कि इस सरकार का वजूद कांग्रेस के समर्थन पर टिका है। सूत्रों का कहना है है कि खड़गे पवार के साथ चर्चा में गृह मंत्रालय कांग्रेस को दिए जाने की मांग कर सकते हैं।

तीनों पार्टियों के प्रमुख नेताओं में मंत्री पद पाने के लिए जोरदार लॉबिंग चल रही है। कांग्रेस को सिर्फ 10 मंत्री पद मिलने हैं, इसलिए कई दावेदारों को निराश होना पड़ सकता है। कांग्रेस विदर्भ से नाना पटोले को विधानसभा अध्यक्ष और नितिन राउत को कैबिनेट मंत्री बना चुकी है। अब भी विदर्भ से विजय वटेड्डीवार, यशोमति ठाकुर, सुनील केदार जैसे नेताओं के नाम मंत्री पद के दावेदारों में हैं। इनमें से किसी एक को ही मंत्री पद मिलने की संभावना है।

महाराष्ट्र मंत्रिमंडल का बहुप्रतीक्षित विस्तार 30 दिसंबर को होगा. कांग्रेस सूत्रों ने गुरुवार को यह जानकारी दी. सूत्रों ने बताया कि उस दिन लगभग 36 मंत्री शपथ ले सकते हैं. फिलहाल मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे नीत मंत्रिमंडल में उनके अलावा छह मंत्री हैं. शपथ ग्रहण समारोह विधान भवन में आयोजित किए जाने की संभावना है. इस बीच, कांग्रेस की राज्य इकाई के अध्यक्ष बालासाहेब थोराट ने पत्रकारों को बताया कि मंत्रिपद की शपथ लेने वाले उनकी पार्टी के नेताओं की सूची तैयार है

कांग्रेस में चर्चा इस बात की है कि मुंबई से मंत्री कौन बनेगा। जाहिर तौर पर तो अमीन पटेल और वर्षा गायकवाड़ का नाम लिया जा रहा है, लेकिन कहा जा रहा है कि जीशान सिद्दकी और असलम शेख भी अपना नंबर लगाने की कोशिश कर रहे हैं। मुंबई के यह तीनों विधायक मुस्लिम हैं। विधानसभा चुनाव में सिर्फ 407 वोटों से हारे नसीम खान भी कोशिश में हैं।



Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it