Top
Home > Archived > अकबरुद्दीन ओवैसी के फिर बिगड़े बोल, पीएम मोदी को बताया शैतान और जालिम

अकबरुद्दीन ओवैसी के फिर बिगड़े बोल, पीएम मोदी को बताया 'शैतान और जालिम'

 Special News Coverage |  4 Oct 2015 12:35 PM GMT

akbaruddin-owaisi


बिहार/नई दिल्ली : बिहार के चुनावी दंगल में अपनी सांप्रदायिक मौजूदगी का पूरा-पूरा एहसास कराते हुए ऑल इंडिया इत्तेहादुल मुस्लिमीन (MIM) के नेता अकबरुद्दीन ओवैसी ने पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ आपत्तिजनक बयान दिया है। ओवैसी ने गुजरात दंगों का जिक्र करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी को शैतान और जालिम करार दिया। अकबरुद्दीन ओवैसी ने ये बातें बिहार के किशनगंज में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कही।

मोदी पर सीधा हमला करते हुए अकबरुद्दीन ओवैसी ने कहा,एक तबका है, जिसमें मैं भी हूं, जो ये मानता है कि गुजरात के दंगों का जिम्मेदार कोई और नहीं नरेंद्र मोदी है। इसके बाद अकबरुद्दीन ओवैसी ने भरी सभा को अपनी जुबानी, अपने ढंग से गुजरात दंगों की कहानी सुनाई, जिसमें हिंदुओं को जुल्म करने वाला बताया गया.दंगों का जिक्र करते हुए अकबरुद्दीन ओवैसी कहा, गुजरात में जुल्म का नंगा नाच हुआ।


दंगों का जिक्र करते हुए अकबरुद्दीन ने कहा, "गुजरात में जुल्म का नंगा नाच हुआ, पूर्व सांसद एहसान जाफरी के घर में छुपे हुए 35 लोगों को मार डाला गया। नरोदा पाटिया में माया कोडनानी ने हमला कराया। मासूमों को काट डाला गया, दरगाह और कब्रों को जलाया गया।"



style="display:inline-block;width:336px;height:280px"
data-ad-client="ca-pub-6190350017523018"
data-ad-slot="4376161085">




ओवैसी ने कहा, "हमें 10 की जरूरत नहीं है, एक मर्द ही काफी है। हम बस अपनी मंजिल की तरफ भागते हैं, दौड़ते हैं और हासिल करते हैं। यहां 243 की असेंबली में 22 की जरूरत नहीं है दो ही मर्द मुस्लिम आ जाए तो काफी है। आज बिहार में अल्पसंख्यकों से जुड़ी महज दो योजनाएं हैं। मुझे सेक्युलर पार्टियों से जवाब चाहिए कि ऐसा क्यों हैं। हमारे पास मुसलमानों के लिए 26 स्कीम हैं। एक गरीब मुस्लिम बेटी की शादी तय होती है तो उसके पास पैसे नहीं होते। हमने इसके लिए असेंबली में प्रस्ताव लाया और अब मुस्लिम बेटियों को शादी के लिए 51 हजार रुपए मिलते हैं। बिहार में मुस्लिमों की हालत सबसे ज्यादा खराब है। 75 फीसदी मुसलमान गरीबी रेखा से नीचे हैं। यहां के शासकों ने हमें दिया क्या है? पूरे बिहार में सिर्फ 24 फीसदी मुसलमानों के पास अपना ठीक-ठाक घर है।"

अकबरुद्दीन ने कहा, "वे इलजाम लगाते हैं कि मुसलमान ज्यादा बच्चे पैदा करते हैं। मैं जनगणना देखता हूं तो पता चलता है कि जन्म के वक्त सबसे ज्यादा मुस्लिम बच्चों की मौत होती है। क्या यही इंसाफ है। तुम्हारे पास इसका जवाब नहीं है और तुम हमारे ऊपर ज्यादा बच्चे पैदा करने का इलजाम लगाते हो।"

अकबरुद्दीन ओवैसी एआईएमआईएम के विधायक और पार्टी के चीफ असदुद्दीन ओवैसी के छोटे भाई हैं। अकबरुद्दीन इससे पहले भी आपत्तिजनक टिप्पणियां करने और भड़काऊ भाषण देने के लिए चर्चित रहे हैं। तेलंगाना के आदिलाबाद में हिंदुओं के खिलाफ भड़काऊ भाषण देने के आरोप में अकबरुद्दीन ओवैसी 2013 में जेल भी जा चुके हैं। अभी वे जमानत पर रिहा हैं।


href="https://www.facebook.com/specialcoveragenews" target="_blank">Facebook पर लाइक करें
Twitter पर फॉलो करें
एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें




style="display:inline-block;width:300px;height:600px"
data-ad-client="ca-pub-6190350017523018"
data-ad-slot="8013496687">

Next Story
Share it