Top
Home > Archived > आरक्षण पर बोले पीएम मोदी, झूठ फैलाया जा रहा है बीजेपी आरक्षण की विरोधी नहीं

आरक्षण पर बोले पीएम मोदी, झूठ फैलाया जा रहा है बीजेपी आरक्षण की विरोधी नहीं

 Special News Coverage |  11 Oct 2015 4:17 PM GMT

PM Modi

मुंबई/नई दिल्‍ली : पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा है कि NDA सरकार किसी भी सूरत में आरक्षण व्यवस्था खत्म नहीं करेगी। उन्होंने आरोप लगाया कि राजनीतिक कारणों से यह झूठ फैलाया जा रहा है कि BJP आरक्षण खत्म करना चाहती है। मुंबई में बाबा साहब से जुड़े एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा, 'आरक्षण कोई छीन नहीं सकता। दलितों-पिछड़ों का विकास बाबा साहब का सपना था। यह सपना पूरा किया जाएगा।'

मोदी ने कांग्रेस की ओर इशारा करते हुए कहा कि उसके शासनकाल में अंबेडकर को भारत रत्न नहीं दिया गया। उन्होंने कहा कि जब केंद्र में बीजेपी के समर्थन से गैर कांग्रेस सरकार बनी, तब जाकर बाबासाहब का तैलचित्र संसद भवन में लगा। उन्होंने कहा कि अंबेडकर 'महापुरुष' थे। पीएम मोदी ने कहा कि 26 नवंबर 'संविधान दिवस' के रूप में मनाया जाना चाहिए। लोगों को संविधान के बारे में जानना चाहिए कि यह कैसे बना।


आपको बता दें आरएसएस चीफ मोहन भागवत के रिजर्वेशन को रिव्यू करने के लिए कमिटी बनाए जाने से जुड़ा बयान सामने आने के बाद बीते कुछ दिनों से नीतीश कुमार, लालू यादव और मायावती बीजेपी पर आरक्षण खत्म करने का आरोप लगा रही थीं। विपक्षी नेता पीएम से इस मुद्दे पर बयान देने की मांग कर रहे थे।



style="display:inline-block;width:336px;height:280px"
data-ad-client="ca-pub-6190350017523018"
data-ad-slot="4376161085">




मुंबई शहर के बीचोबीच 400 करोड़ रुपये से यह स्मारक बनाया जाना है और इसके चार साल में पूरा होने की उम्मीद है। समारोह से पहले मोदी ने शिवाजी पार्क के निकट चैत्यभूमि में अंबेडकर को श्रद्धांजलि दी, जहां उनकी समाधि है। स्मारक इंदु मिल की 7.4 हेक्टेयर भूमि पर बनेगा, जिसे राज्य सरकार ने नेशनल टेक्सटाइल कारपोरेशन से अधिग्रहीत किया था। पिछले माह फडणवीस सरकार ने लंदन में अंबेडकर का बंगला भी खरीदा था। उन्होंने शहर में दो नई मेट्रो लाइनों की आधारशिला भी रखी।

पीएम रविवार शाम को एक दिन के दौरे पर मुंबई पहुंचे थे। महाराष्ट्र के राज्यपाल विद्यासागर राव और मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने हवाई अड्डे पर उनकी अगवानी की। आगमन के तत्काल बाद मोदी जवाहरलाल नेहरू पोर्ट ट्रस्ट (जेएनपीटी) रवाना हो गए जहां उन्होंने 7,900 करोड़ रुपये की लागत वाले चौथे टर्मिनल की आधारिशला रखी।

महाराष्ट्र की गठबंधन सरकार में शामिल शिवसेना का कोई मंत्री समारोह में शामिल नहीं हुआ। पार्टी प्रवक्ता नीलम गोठे ने कहा कि प्रोटोकॉल की आड़ में संकीर्ण रुख दिखाते हुए इंदु मिल के समारोह में शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे को आमंत्रित नहीं किया गया था। इसलिए समारोह से दूरी बनाई गई।


href="https://www.facebook.com/specialcoveragenews" target="_blank">Facebook पर लाइक करें
Twitter पर फॉलो करें
एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें




style="display:inline-block;width:300px;height:600px"
data-ad-client="ca-pub-6190350017523018"
data-ad-slot="8013496687">


Next Story
Share it