Top
Breaking News
Home > Archived > मोदी पाक और मुसलमानों के विरोधी है तो पठानकोट जैसे हमले होते रहेंगे- परवेज मुशर्रफ

मोदी पाक और मुसलमानों के विरोधी है तो पठानकोट जैसे हमले होते रहेंगे- परवेज मुशर्रफ

 Special News Coverage |  13 Jan 2016 5:04 AM GMT



पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति जनरल परवेज मुशर्रफ ने एक बार फिर भारत के खिलाफ जहर उगला है। जनरल मुशर्रफ ने कहा कि जब तक कश्मीर मुद्दे का हल नहीं होगा, पठानकोट जैसे हमले होते रहेंगे। मोदी पाकिस्तान और मुसलमानों के प्रवल विरोधी है।

भारत को चेतावनी
पाकिस्तानी टीवी चैनल आज टीवी को दिए इंटरव्यू में मुशर्रफ ने कहा कि पठानकोट मामले में भारत कुछ ज्यादा प्रतिक्रियाएं दे रहा है। इस तरह के हमले भविष्य में भी होते रहेंगे। उन्होंने, 'आतंकवाद भारत और पाकिस्तान दोनों देशों में में हैं। हम भी तो इसके पीड़ित हैं, इसलिए पठानकोट जैसे मसले पर बहुत ज्यादा प्रतिक्रिया देने से कुछ नहीं होगा। निश्चित तौर पर हमें इस पर नियंत्रण करना चाहिए।




मोदी पाकिस्तान और मुसलमानों के खिलाफ'
मुशर्रफ ने एक बयान में कहा था कि पाकिस्तान को लेकर मोदी सरकार जो रुख अपना रही है वह सही नहीं है। उन्होंने कहा था, 'बीजेपी सरकार को एक दिन सद्बुद्धि आएगी और वह भारत में पाकिस्तान विरोध और धार्मिक असहिष्णुता के बावजूद पाकिस्तान के साथ बातचीत जारी रखेगी। मुशर्रफ ने पीएम मोदी पर सवाल उठाते हुए कहा था, 'भारत में एक प्रधानमंत्री आ गए हैं उन्हें नहीं पता है कि क्या पाकिस्तान के खिलाफ है और क्या मुसलमान के खिलाफ। निश्चित तौर पर ये मसला बीजेपी नहीं बल्कि मोदी है क्योंकि मोदी पाकिस्तान और मुसलमान दोनों के खिलाफ हैं।


पूर्व पीएम वाजपेयी और मनमोहन की तारीफ की
मुशर्रफ ने एक बार फिर प्रधानमंत्री मोदी पर भी निशाना साधा और कहा कि मोदी के मुकाबले अटल बिहारी वाजपेयी भारत-पाकिस्तान संबंधों को लेकर ज्यादा ईमानदार थे। उन्होंने मनमोहन सिंह की भी तारीफ की। मुशर्रफ ने कहा कि बिहार और दिल्ली में हार मिलने से साबित हो गया है कि मोदी भारत में भी कितने लोकप्रिय हैं।

मोदी पर लगातार हमले करते रहे हैं मुशर्रफ
मुशर्रफ ने सोमवार को भी प्रधानमंत्री मोदी पर हमला बोला था। उन्होंने कहा था, 'मोदी पाकिस्तान और मुसलमानों से दुश्मनी निकाल रहे हैं। उन्होंने कहा, 'हमने बीजेपी और कांग्रेस दोनों के साथ काम किया है। उस वक्त भारत में अभी जैसे हालात नहीं थे। अब जो हो रहा है वह पार्टी से अलग व्यक्तिगत मुद्दा है।

आतंकी हमले पर पाक का ही नाम क्यों
पाकिस्तान के पूर्व तानाशाह शासक ने कहा कि भारत में जब भी कोई आतंकी हमला होता है, सबसे पहले पाकिस्तान का नाम लिया जाता है. लेकिन भारत आतंकवाद से अछूता नहीं है। भारत में भी चरमपंथी हैं। उन्होंने कहा कि भारत आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान पर इस तरह दबाव नहीं बना सकता. बेशक हमारा देश छोटा है, लेकिन हमारा भी आत्मसम्मान है। भारत में ऐसे बहुत सारे इलाके हैं, जहां पर उग्रवाद पनप रहा है।


'हम भी आपको वहीं मारेंगे, जहां तकलीफ होगी'

मुशर्रफ ने रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर के बयान पर भी जोरदार प्रतिक्रिया दी और कहा कि हम भी आपको वहीं मारेंगे, जहां आपको तकलीफ होगी। आप किसी तरह की गलतफहमी में नहीं रहें। रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने सोमवार को आर्मी डे सेलिब्रेशन में पाकिस्तान का नाम लिए बगैर कहा था कि यदि कोई आपको नुकसान पहुंचाता है, वह भी वही भाषा समझता है। उसे अपने किए का पता तब तक नहीं चलता, जब तक आप उसे उसी दर्द का अहसास नहीं दिलाते।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it