Home > Archived > हरियाणा के CM खट्टर बोले, मुस्लिम इस देश में रह सकते हैं, लेकिन बीफ खाना छोड़ना होगा

हरियाणा के CM खट्टर बोले, मुस्लिम इस देश में रह सकते हैं, लेकिन 'बीफ' खाना छोड़ना होगा

 Special News Coverage |  16 Oct 2015 5:19 AM GMT

manohar lal khattar FILE - PHOTO


नई दिल्ली : दादरी कांड और बीफ पर सियासत का दौर खत्म होता नहीं दिख रहा है। मामला शांत होने के बजाए गर्माता ही जा रहा है। इस बार हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने विवाद को हवा दी है। खट्टर ने दादरी में हुई घटना को गलत और गलतफहमी का नतीजा करार दिया है। साथ ही उन्होंने कहा है कि मुस्लिम इस देश में रह सकते हैं, लेकिन उन्हें बीफ खाना छोड़ना होगा।

खट्टर ने एक अंग्रेजी अखबार को दिए इंटरव्यू में कहा कि गाय, गीता और सरस्वती देश के बहुसंख्यक समुदाय के लिए धार्मिक विश्वास के प्रतीक हैं। मुस्लिम रहें, मगर इस देश में बीफ खाना छोड़ना ही होगा उनको। यहां की मान्यता है गऊ।


खट्टर ने गोवध पर बैन से जुड़े कानून को राज्य सरकार के सबसे अहम उपलब्धि में गिनाया। खट्टर के कार्यकाल में ही हरियाणा में गोवंश पर कानून पास किया गया। हरियाणा गोवंश संरक्षण और गो-संवर्धन कानून के मुताबिक, गाय को मारने का जुर्म साबित होने पर 10 साल की सजा हो सकती है। इसके अलावा, बीफ खाना साबित होने पर आरोपी को पांच साल तक की सजा हो सकती है।

इंडियन एक्सप्रेस को दिए गए इंटरव्यू में सीएम खट्टर ने दादरी की वारदात को 'गलतफहमी का नतीजा' बताते हुए कहा कि 'दोनों पक्षों' ने गलत किया। उन्होंने कहा, 'इस घटना को नहीं होना चाहिए था। दोनों की तरफ से नहीं होना चाहिए था।' उन्होंने दावा किया कि पीड़ित मुहम्मद इखलाक ने 'गाय से जुड़ी एक हल्की टिप्पणी की जिससे लोगों की भावनाएं आहत हुईं और इसके नतीजे के तौर पर उन्होंने इखलाक पर हमला कर दिया।'

खट्टर ने कहा कि जो इस मामले के लिए जिम्मेदार हैं, उन्हें कानून सजा देगा। उन्होंने आगे कहा, 'लेकिन मैं कहता हूं कि किसी पर हमला करना और किसी इंसान को मारना गलत है।' सीएम खट्टर ने इस घटना की तुलना ऐसी स्थिति से की जिसमें किसी व्यक्ति की मां को मार दिया जाए या फिर बहन का उत्पीड़न किया जाए तो उसे अपराधी पर गुस्सा आएगा। सीएम के मुताबिक, ''हमें घटना के पीछे की वजहों को समझना होगा। हमें यह समझना होगा कि किसी ने ऐसा क्यों किया?''

href="https://www.facebook.com/specialcoveragenews" target="_blank">Facebook पर लाइक करें
Twitter पर फॉलो करें
एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें




style="display:inline-block;width:300px;height:600px"
data-ad-client="ca-pub-6190350017523018"
data-ad-slot="8013496687">

स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top