Top
Home > Archived > दादरी कांड पर राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने जताई चिंता, कहा-सभ्यता के मूल्यों को बर्बाद नहीं होने दे सकते

दादरी कांड पर राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने जताई चिंता, कहा-सभ्यता के मूल्यों को बर्बाद नहीं होने दे सकते

 Special News Coverage |  7 Oct 2015 2:15 PM GMT

pranab-mukherjee


नई दिल्ली : दादरी में गौ मांस खाने की अफवाह के बाद हुए हत्या पर नाराजगी जताते हुए राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने कहा कि भारतीय सभ्यता में विविधता, सहिष्णुता और बहुलता इसके बुनियादी मूल्य हैं जिसे हमें ध्यान में रखने की जरूरत है। इन मूल्यों को बेकार नहीं होने देना चाहिए।

राष्ट्रपति भवन में बुधवार को आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कहा, 'मैं इस बात में विश्वास रखता हूं कि हम अपनी सभ्यता के मूल्यों को बर्बाद नहीं होने दे सकते। हमारी सभ्यता सालों से विविधता, बहुलता, सहनशीलता और सहिष्णुता को बढ़ावा देने वाली रही है।'







style="display:inline-block;width:336px;height:280px"
data-ad-client="ca-pub-6190350017523018"
data-ad-slot="4376161085">




अपने ही बारे में लिखी गई एक पुस्तक के विमोचन के बाद राष्ट्रपति ने कहा, ‘इन्हीं बुनियादी मूल्यों ने हमें सदियों तक एक साथ बांधे रखा। कई प्राचीन सभ्यताएं खत्म हो गईं. लेकिन यह सही है कि एक के बाद एक आक्रामण, लंबे विदेशी शासन के बावजूद भारतीय सभ्यता अगर बची तो अपने बुनियादी नागरिक मूल्यों के कारण ही बची। हमें निश्चित तौर पर इसे ध्यान में रखना चाहिए। अगर इन बुनियादी मूल्यों को हम अपने मन-मस्तिष्क में बनाए रखा तो हमारे लोकतंत्र को आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता।'

समारोह में केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह भी मौजूद थे, जिन्होंने बुधवार को ही कहा था, "चाहे वह राज्य सरकार हो या केंद्र सरकार, देश में सांप्रदायिक सद्भाव को खत्म करने वालों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी..."

href="https://www.facebook.com/specialcoveragenews" target="_blank">Facebook पर लाइक करें
Twitter पर फॉलो करें
एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें




style="display:inline-block;width:300px;height:600px"
data-ad-client="ca-pub-6190350017523018"
data-ad-slot="8013496687">


Next Story
Share it