Top
Home > Archived > संघ प्रमुख मोहन भगवत ने की मोदी सरकार की तारीफ़, कहा-भारत को दुनिया का सिरमौर बनाना है

संघ प्रमुख मोहन भगवत ने की मोदी सरकार की तारीफ़, कहा-भारत को दुनिया का सिरमौर बनाना है

 Special News Coverage |  22 Oct 2015 7:25 AM GMT

RSS Chief

नागपुर : दशहरा के मौके पर नागपुर में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने हिंदुवादी संगठन के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए गुरूवार को कहा कि ‘छोटी-छोटी घटनाएं’ ‘हिन्दू संस्कृति’ को नुकसान नहीं पहुंचा सकतीं। उन्होंने साथ ही देश में उम्मीद और विश्वास का माहौल पैदा करने तथा विदेश में भारत की प्रतिष्ठा मजबूत करने के लिए मोदी सरकार की सराहना की।

कार्यक्रम में भागवत ने मोदी सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि आज देश में विश्वास का माहौल है। दुनिया में भारत का सम्मान। मोदी सरकार ने पूरी दुनिया में भारत की साख मजबूत की है। सरकार के प्रयासों की वजह से ही योग और गीता की दुनिया भर में चर्चा है। उन्होंने कहा कि भारत को दुनिया का सिरमौर बनाना है।


संघ प्रमुख ने कहा कि बाबा साहेब भीम राव अंबेडकर में शंकराचार्य और भगवान बुद्ध के गुण थे। उन्होंने कहा कि समाज को एक दूसरे का पूरक बनना है। पूरे समाज से भेदभाव खत्म करना चाहिए।

उन्होंने कहा, हमारा देश एकजुट रहा है और एकजुट रहेगा। संघ पिछले 90 साल से देश को हिन्दुत्व के आधार पर एकजुट रखने के लिए काम करता आ रहा है। भागवत ने हालांकि सांप्रदायिक और जातीय तनाव की हालिया घटनाओं का सीधा जिक्र नहीं किया।

नीति आयोग की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि आयोग का घोषणा पत्र देश के विकास की रूपरेखा तय करता है। सभी की सहभागिता से ही विकास संभव है। हमें सभी धर्मों को जोड़कर चलना होगा और धर्म से सभी काम अनुशासित हों। धर्म से त्याग और संयम आता है। उन्होंने कहा कि देश की जनसंख्या बढ़ रही है। इसलिए देश को 70 फीसदी उत्पादन बढ़ाने की जरूरत है।

यूपीए सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि विरासत में मिली समस्याओं को ठीक करने और विकास की राह पर देश को आगे ले जाना में थोड़ा समय लगेगा। इसके लिए जनता और प्रतिनिधियों के बीच बातचीत होना भी जरूरी है।

उन्होंने कहा कि दुनिया भारत की ओर देख रही है। विकसित भारत के लिए अपने लोगों को मानसिक दासता से मुक्त होना होगा। नेताओं को, प्रशासन को, सबको उसके बारे में सोचना होगा। सबको मिलकर काम करना होगा। अपने जड़ों से जुडे़ रहना होगा। एकता बनाए रखने के साथ गुणवत्ता बनाए रखनी होगी।

उन्होंने कहा कि सिर्फ नीति बनाने से काम नहीं चलेगा, नीति बनाने वालों को उसकी जमीनी हकीकत जाननी होगी। सभी के साथ संवाद कायम करना होगा।

नागपुर में आरएसएस की दशहरा रैली में डीआरडीओ के पूर्व प्रमुख विजय कुमार सारस्वत मुख्य अतिथि थे। संघ के इस कार्यक्रम में महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी समेत भाजपा के कई नेता शामिल हुए। गडकरी और फडणवीस खाकी पैंट और काली टोपी में मंच पर उपस्थित थे। '



href="https://www.facebook.com/specialcoveragenews" target="_blank">Facebook पर लाइक करें
Twitter पर फॉलो करें
एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें




style="display:inline-block;width:300px;height:600px"
data-ad-client="ca-pub-6190350017523018"
data-ad-slot="8013496687">



स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it