Home > Archived > तृप्ति देसाई का आरोप, मेरे बाल खींचे गए - मेरे कपड़े फाड़े गए

तृप्ति देसाई का आरोप, मेरे बाल खींचे गए - मेरे कपड़े फाड़े गए

 Special News Coverage |  14 April 2016 5:47 AM GMT

Trupti Desai


कोल्‍हापुर : भूमाता बिग्रेड की तृप्ति देसाई ने महाराष्ट्र के कोल्हापुर में महालक्ष्मी मंदिर प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाए हैं। तृप्‍ति का कहना है कि बुधवार रात उन्‍हें मंदिर में दाखिल नहीं होने दिया गया और उनके साथ बदसलूकी की गई।

तृप्‍ति का कहना है कि मंदिर के पुजारी ने उनके साथ गाली गलौच किया और उनके ऊपर हल्दी, कुमकुम के साथ मिर्च पाउडर फेंका गया। इस घटना में पुलिस ने बड़ी मुश्किल से तृप्ति को बाहर निकाला। तृप्‍ति का आरोप है कि वहां उनके बाल खींचे गए और उनके कपड़े तक फाड़े गए। इस दौरान उन्हें गालियां दी गई और अपशब्द कहे गए। उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि हमलावरों ने मुझे मारने की योजना बनाई थी। तृप्ति के मुताबिक पुजारी लोग उन्हें गालियां दे रहे थे।


तृप्ति देसाई बुधवार शाम को 50 महिलाओं के साथ कोल्हापुर में महालक्ष्मी मंदिर दर्शन करने पहुंची थीं, लेकिन यहां की पुलिस ने कानून व्यवस्था के मद्देनजर इन्हें रोक लिया गया। शाम को तृप्ति देसाई को पुलिस की निगरानी में मंदिर के गर्भगृह में दर्शन के लिए लाया गया। तभी मंदिर जाते समय हिंदुत्ववादी कार्यकर्ता और स्थानीय लोगों ने तृप्ति के साथ अभद्र भाषा का इस्तेमाल कर उन पर हमला करने की कोशिश भी की। पुलिस तृप्ति को मंदिर गर्भगृह के पास लाई लेकिन वहां पर पुजारी और अन्य महिलाओं ने उसे गर्भगृह में जाने की इजाजत नहीं दी।

वहीं मंदिर प्रशासन का कहना है कि वे मंदिर के गर्भ गृह में दाखिल होने की कोशिश कर रही थी, जबकि सुप्रीम कोर्ट के एक्‍ट के मुताबिक उन्‍हें सिर्फ मंदिर में दाखिल होने की अनुमति मिली है।

Tags:    
Share it
Top