Top
Home > Archived > अमेरिकी सांसद सुनना चाहते हैं पीएम नरेंद्र मोदी का भाषण, स्पीकर को लिखी चिट्ठी

अमेरिकी सांसद सुनना चाहते हैं पीएम नरेंद्र मोदी का भाषण, स्पीकर को लिखी चिट्ठी

 Special News Coverage |  20 April 2016 9:02 AM GMT

PM Modi speech

वॉशिंगटन : अमेरिकी सांसदों ने जून में होने वाले PM मोदी के दौरे के दौरान अमेरिकी संसद में भाषण कराने के लिए स्पीकर को चिट्ठी लिखी है। चार अमेरिकी सांसदों ने US हाउस स्पीकर पॉल रायन से कहा है कि भारतीय पीएम नरेंद्र मोदी के अमेरिकी दौरे पर संसद के संयुक्त सत्र के सामने उनका भाषण करवाया जाए। आपको बता दें PM मोदी 7 और 8 जून को अमेरिकी दौरे पर रहेंगे।

अमेरिकी सांसदों ने हाउस स्पीकर को लिखे पत्र में कहा, 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भाषण के लिए आमंत्रित किया जाए और कांग्रेस को अपना समर्थन जाहिर करने का अवसर दिया जाए। इस वैश्विक साझेदारी के प्रति हम अपना समर्थन उन्हें जाहिर कर सकें।


सांसदों ने पत्र में कहा है, 'हमें लगता है कि भारत के साथ रक्षा, मानवता और आपदा राहत, अंतरिक्ष सहयोग और कंजर्वेशन और इनोवेशन हमारे रिश्तों की गहराई को देखते हुए यह प्रधानमंत्री को आमने-सामने सुनने का सही मौका है।' इसमें कहा गया है कि भारत और अमेरिकी संबंधों को लगातार द्विपक्षीय सहयोग मिल रहा है और मोदी के भाषण से कांग्रेस को उनकी वैश्विक साझेदारी के प्रति समर्थन जताने का मौका भी मिलेगा।

पत्र में तर्क दिया गया है कि ऐसे तत्वों की गहन समानता की वजह से बनी इस नई दोस्ती के चैंपियन दोनों ही पार्टियों (रिपब्लिकन और डेमोक्रैटिक) में बिल क्लिंटन और जॉर्ज बुश के तौर पर रहे हैं। जिसकी अगली परिणति UN में मजबूत, गौरवमयी और परिपक्व होते भारत-अमेरिका के प्रभाव के तौर पर देखा जा सकता है।

पत्र पर हस्ताक्षर करने वालों में विदेश मामलों की संसदीय समिति के अध्यक्ष एड रॉयसी, डेमोक्रेटिक पार्टी के सदस्य एलियट एंजेल, जार्ज होल्डिंग और एमी बेरा ने कहा कि उन्हें पूरा भरोसा है कि अगर मोदी को निमंत्रण दिया गया तो वह इसे जरूर स्वीकार करेंगे। (बेरा अमेरिकी कांग्रेस में भारतीय अमेरिकी मूल की अकेली सांसद हैं)। उन्होंने कहा कि अमेरिका-भारत साझीदारी मूल्यों, कानून व्यवस्था, लोकतंत्र और धार्मिक बहुलता की बुनियाद पर टिकी हुई है।

अगर ऐसा होता है तो जवाहर लाल नेहरू, राजीव गांधी, नरसिम्ह राव, अटल बिहारी वाजपेयी और मनमोहन सिंह के बाद नरेंद्र मोदी देश के छठे प्रधानमंत्री होंगे, जो अमेरिकी कांग्रेस के संयुक्त सत्र को संबोधित करेंगे।

Tags:    
Next Story
Share it