Home > सुशील मोदी के बेटे उत्कर्ष की शादी में पहुंचे लालू

सुशील मोदी के बेटे उत्कर्ष की शादी में पहुंचे लालू

सबसे अहम बात यह है कि उत्कर्ष तथागत की शादी किसी अन्य शादी की तरह तामझाम के साथ नहीं, बल्कि सादगी के साथ होगी.

 Ekta singh |  2017-12-03 10:12:46.0  |  नई दिल्ली

सुशील मोदी के बेटे उत्कर्ष की शादी में पहुंचे लालू

बिहार: बिहार के उप-मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के बेटे उत्कर्ष आज परिणय सूत्र में बंधने जा रहे हैं. शादी बेहद सादगी के साथ होगी. सुशील कुमार मोदी के बेटे उत्कर्ष तथागत की शादी कोलकाता निवासी नवलजी केदारनाथ जी वर्मा की सुपुत्री यामिनी से हो रही है.

सुशील मोदी के बेटे उत्कर्ष तथागत की शादी आज पटना के वेटरनरी कॉलेज मैदान में दोपहर 3 से 5 बजे के बीच होगी. सबसे अहम बात यह है कि उत्कर्ष तथागत की शादी किसी अन्य शादी की तरह तामझाम के साथ नहीं, बल्कि सादगी के साथ होगी.

यह शादी बिना दहेज, बैंड, बाजा, बारात, नाच गाने और भोज के होगी. बीजेपी नेता सुशील मोदी के बेटे की शादी के लिए कोई कार्ड तक नहीं छपवाया गया. सभी मेहमानों को ई-कार्ड के जरिए आमंत्रित किया गया है.

इस शादी में सभी मेहमानों को गिफ्ट लाने की भी मनाही है. इसमें भोज की व्यवस्था तक नहीं है. सभी मेहमानों को चार-चार लड्डू प्रसाद स्वरूप और पाणी ग्रहण संस्कार की पुस्तिका भेंट स्वरूप दी जाएगी. आमंत्रित मेहमानों के लिए समारोह स्थल पर चाय और पानी के स्टॉल भी लगाए जाएंगे.

यूं तो सुशील मोदी की शादी में कई वीआईपी मेहमान आ रहे हैं, लेकिन राजनीति में लालू के सबसे बड़े प्रतिद्वंदी माने जाने वाले लालू यादव भी इस शादी में शामिल होने पहुंचे हैं.

शादी में शामिल होने पहुंचे लालू का सुशील कुमार मोदी ने गर्मजोशी से स्वागत किया. इस शादी में आने वाले वीवीआईपी मेहमानों की लंबी फेहरिस्त है.

इस शादी में झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ,छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर, उतराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत समेत केंद्रीय मंत्रियों में अरुण जेटली, अनंत सिंह, धर्मेंद्र प्रधान, साध्वी निरंजन ज्योति, शिव प्रकाश शुक्ला, डॉ हर्षवर्धन सहित कई और केंद्रीय मंत्री आएंगे.

इस समारोह में चार राज्यों के राज्यपाल भी शिरकत करेंगे. वहीं बिहार के मुख्यमंत्री और सभी मंत्री इस शादी में वर-वधु को आशीर्वाद देंगे. मेहमानों की लंबी फेहरिस्त को देखते हुए पटना वेटनरी कॉलेज के मैदान में व्यवस्था की गई है.

इस शादी को लेकर लगातार राजनीति भी गर्म रही है. पूर्व स्वास्थ्यह मंत्री तेजप्रताप ने इस शादी में हंगामा करने की बात कही थी तो सुरक्षा कारणों का हवाला देकर सुशील मोदी ने राजेंद्र नगर शाखा मैदान से शादी का समारोह स्थल वेटरनरी कॉलेज कर लिया था.

मोदी ने तकरीबन 1500 मेहमानों को अपने बेटे की शादी के लिए आमंत्रण भेजा है, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव भी शामिल हैं.


Tags:    
Share it
Top