Home > मार्शल ऑफ एयरफोर्स अर्जन सिंह का निधन, पीएम मोदी और राष्ट्रपति ने जताया दुख

मार्शल ऑफ एयरफोर्स अर्जन सिंह का निधन, पीएम मोदी और राष्ट्रपति ने जताया दुख

अर्जन सिंह की सेवाओं के सम्मान में, भारतीय वायु सेना ने उन्हें जनवरी 2002 में वायु सेना के मार्शल रैंक से सम्मानित किया और उन्हें पहला और एकमात्र 5 स्टार रैंक ऑफिसर बनाया गया।

 Arun Mishra |  2017-09-16 16:30:20.0  |  New Delhi

मार्शल ऑफ एयरफोर्स अर्जन सिंह का निधन, पीएम मोदी और राष्ट्रपति ने जताया दुख

नई दिल्ली : भारतीय वायु सेना (आईएएफ) के मार्शल अर्जन सिंह का शनिवार को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। इससे पहले शनिवार सुबह को उन्हें दिल्ली के सेना अस्पताल (आरएंडआर) में गंभीर हालत में भर्ती कराया गया था जहां उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और एयरफोर्स प्रमुख बीएस धनोवा ने अस्पताल के गहन चिकित्सा कक्ष (आईसीयू) का दौरा किया था और उनसे मुलाकात की थी।

मार्शल अर्जन सिंह के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पुरानी तस्वीरें साझा करते हुए दुख प्रकट किया। पीएम ने ट्वीट कर कहा, 'मार्शल ऑफ एयरफोर्स अर्जन सिंह के दुखद निधन से पूरा भारत दुखी है। हम उनके श्रवश्रेष्ठ कार्यों के लिए हमेशा याद रखेंगे।'


अर्जन सिंह (98) को 1 अगस्त 1964 को वायुसेनाध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया था। वह पहले वायुसेना प्रमुख थे जिन्हें पायलट रहते हुए सीएएस (चीफ ऑफ एयर स्टाफ) नियुक्त किया गया था। 1965 में उन्हें पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया था।
उन्होंने युद्ध के समय भारतीय वायु सेना का सफल नेतृत्व कर अपने प्रयास को दिखाया। 1969 में भारतीय वायु सेना से सेवानिवृत्ति पर, उन्हें स्विट्जरलैंड में भारतीय राजदूत नियुक्त किया गया था। अर्जन सिंह की सेवाओं के सम्मान में, भारतीय वायु सेना ने उन्हें जनवरी 2002 में वायु सेना के मार्शल रैंक से सम्मानित किया और उन्हें पहला और एकमात्र 5 स्टार रैंक ऑफिसर बनाया गया।

Tags:    
Share it
Top