Breaking News
Home > Morning Update: हरियाणा में मंदिर में रेप, बिहार में मासूम से रेप , उड़ीसा में मासूम से रेप

Morning Update: हरियाणा में मंदिर में रेप, बिहार में मासूम से रेप , उड़ीसा में मासूम से रेप

दिन निकलते ही उन घटनाओं से सामना करना पड़ता है, जिन बातों को सुनकर आम नागरिक की रूह काँप जाती है.

 शिव कुमार मिश्र |  2018-04-23 01:26:10.0

Morning Update: हरियाणा में मंदिर में रेप, बिहार में मासूम से रेप , उड़ीसा में मासूम से रेपसांकेतिक तस्वीर

भारत में बच्चियों से दरिंदगी नहीं थम रही है. हरियाणा के यमुनानगर में 13 साल की नाबालिग से मंदिर परिसर में गैंगरेप की घटना सामने आई है, तो वहीं बिहार के मुजफ्फरपुर में 9 साल की बच्ची की रेप के बाद हत्या दी गई. इतना ही नहीं उड़ीसा के कटक जिले में छह साल की बच्ची के साथ रेप के आरोप में एक व्यक्ति गिरफ्तार कर लिया गया. बताइए जब किसी बेटी के बाप को इतनी घटना सुबह सुबह पढने को मिले तो उसका कलेजा काँप उठता है.


हरियाणा के मंदिर में रेप

हरियाणा के यमुनानगर में चार दरिंदों ने 13 साल की नाबालिग बच्ची को अगवाकर मंदिर परिसर में ले जाकर गैंगरेप किया. गैंगरेप के बाद हत्या के इरादे से बच्ची का सिर दीवार से दे मारा जिससे उसे गंभीर चोट आई है. जानकारी के मुताबिक बच्ची अपने भाई बहनों के साथ सो रही थी.

बच्ची के माता पिता किसी काम से बाहर गए थे. उसी समय गांव के दो बदमाश अपने दो साथियों के साथ घर में घुसे हैं और बच्ची को जबरन उठाकर मंदिर परिसर में ले जाकर गैंगरेप किया और उसके बाद हत्या की कोशिश की. दीवार में सिर मारने से बच्ची बेहोश हो गई जिसके बाद बदमाश मौके से फरार हो गए. बच्ची को जब होश आया तो वो जैसे तैसे घर पहुंची और घरवालों को सारी बात बताई.




बिहार में रेप

बिहार के मुजफ्फरपुर से दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. बिहार के मुजफ्फरपुर में 9 साल की मासूम बच्ची की बलात्कार के बाद हत्या कर दी गई. बच्ची का शव मक्के के खेत से बरामद किया गया. मजफ्फरपुर के मुसहरी में ये वारदात शनवार रात को हुई. बच्ची अपने पड़ोस में टीवी देखने गई थी और वहीं से गायब हो गई.

रविवार यानी कल बच्ची का शव गांव के ही खेत से मिला. पास से ही बच्ची के कपड़े भी मिले. जिस जगह शव मिला वहां से थोड़ी दूरी पर रेप के सबूत भी मिले. नौ साल की मासूम के साथ रेप और हत्या को लेकर पूरा गांव गुस्से में है.


उड़ीसा में रेप

मिली जानकारी के मुताबिक, मासूम बच्ची शनिवार को करीब शाम 6 बजे चॉकलेट खरीदने के लिए जगन्नाथपुर नोडल अपर प्राइमरी स्कूल के पास एक दुकान पर गई थी. इसके बाद वह गायब हो गई. लड़की के घर नहीं लौटने पर परिवार ने उसे खोजना शुरू किया, लेकिन वह नहीं मिली. इसके बाद वह शाम करीब 7.30 बजे स्कूल में बेहोशी की हालत में मिली.

सालीपुर उप प्रभागीय पुलिस अधिकारी पीके जेना ने बताया कि आरोपी उसे चॉकलेट की लालच देकर दूर ले गया. स्कूल परिसर में उसके साथ रेप करने के बाद उसने लड़की की गला घोंटकर हत्या करने की कोशिश की थी. इस मामले में आरोपी मोहम्मद मुश्ताक को गिरफ्तार किया गया है, जो लड़की का पड़ोसी है.

पीड़िता की हालत जानने के बाद स्वास्थ्य मंत्री प्रताप जेना ने कहा कि लड़की के इलाज के लिए 13 चिकित्सकों की एक टीम बनाई गई है. लड़की को इंटेंसिव केयर यूनिट में रखा गया है. लड़की से रेप किया गया है या नहीं, इसका पता विभिन्न विभागों की रिपोर्ट प्राप्त होने के बाद पता चलेगा, लेकिन लड़की के शरीर पर कई चोट के निशान हैं.

इतनी बड़ी घटनाओं के होने के बाद केंद्र और राज्य सरकार बेटी बचाओ बेटी पढाओ नारा भी भूल गई. देश के अधिकांश राज्यों में भारतीय जनता पार्टी की सरकार है और केंद्र में भी मोदी सरकार है वो भी बीजेपी की है. लेकिन फिर भी कानून का मजाक इतना क्यों उड़ाया जा रहा है, सरेआम बेटी की इज्जत नीलाम हो रही है. और हम अपने को असहाय हुआ देख रहे है. कठुआ में बच्ची से रेप को लेकर पूरा देश गुस्से में उबल रहा है. सरकार ने बच्चियों के बलात्कारियों के लिए फांसी की सजा का कानून बना दिया लेकिन समाज के शैतानों पर कोई असर नहीं पड़ा है.



Tags:    
Share it
Top