Top
Home > राष्ट्रीय > सुप्रीम कोर्ट के आदेश से उन्नाव रेप कांड पर न्याय होने की उम्मीद जगी

सुप्रीम कोर्ट के आदेश से उन्नाव रेप कांड पर न्याय होने की उम्मीद जगी

 Special Coverage News |  1 Aug 2019 12:58 PM GMT  |  दिल्ली

सुप्रीम कोर्ट के आदेश से उन्नाव रेप कांड पर न्याय होने की उम्मीद जगी

नई दिल्ली। यूपी में मोदी की भाजपा की सरकार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कानून व्यवस्था को लेकर लगातार फेल हो रही है इसी को जनता की नज़र से हठाने के लिए आजम खान के मामले को गरम किया जा रहा है ताकि उन्नाव रेप कांड पर ज़्यादा चर्चा न हो लेकिन आज उन्नाव रेप कांड पर सुप्रीमकोर्ट ने दिया निर्देश सात दिन में रायबरेली ट्रक हादसे की जांच पूरी करे CBI 45 दिन में उन्नाव रेप कांड की सारी जाँच पूरी करें।

पीड़िता के परिवार को तत्काल CRPF सुरक्षा मुहैया कराने का निर्देश दिया। राज्य सरकार से कहा परिवार को 25 लाख रु मुआवज़ा दें। रेप कांड से जुड़े सभी मुक़दमे दिल्ली ट्रांसफ़र किये जाते हैं।मोदी की भाजपा सरकार चाहे कितना भी घूमाने की कोशिश कर ले लेकिन उन्नाव रेप कांड पूरे देश का मुद्दा बन गया है यूपी में ख़राब हो रही कानून-व्यवस्था को पूरा देश देख रहा है कि कैसे अपराधी अपराध कर बेख़ौफ़ घूम रहे है और मुख्यमंत्री योगी कानून का राज होने का राग अलाप रहे है ये कैसा कानून का राज है कि आरोपी अपने बचाओ के लिए पीड़ितों को ठिकाने में लगे है और योगी सरकार कुछ करने और मानने को तैयार नही है।

उन्नाव कांड से जुड़ी बड़ी बातें -

सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि उन्नाव मामले से जुड़े सभी पांचों केस दिल्ली ट्रान्सफर हो।

सड़क हादसे की जांच 7 दिन में पूरी हो।

पीड़िता की मां और भाई-बहनों को भी सुरक्षा मिले।

पीड़िता को इलाज के लिए एम्स लाने के बारे में परिवार फैसला ले।

पीड़िता का वकील पीड़िता को एम्स लाने के बारे में परिवार से बात करे।

मामले की रोजाना सुनवाई हो।

पीड़िता को एम्स में भर्ती कराये जाने के बारे में सुप्रीम कोर्ट में कल होगी सुनवाई।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it