Home > मंदिर के बाहर मजबूरी में भीख मांग रहा था रूसी पर्यटक, सुषमा ने की मदद

मंदिर के बाहर मजबूरी में भीख मांग रहा था रूसी पर्यटक, सुषमा ने की मदद

सुषमा स्वराज मदद के लिए हमेशा तत्पर रहती है चाहे वह भारतीय नागरिक हो या विदेशी नागरिक, सुषमा ने इस बार एक रुसी नागरिक की मदद करने का वादा किया है।

 Vikas Kumar |  2017-10-11 11:05:33.0  |  नई दिल्ली

मंदिर के बाहर मजबूरी में भीख मांग रहा था रूसी पर्यटक, सुषमा ने की मदद

नई दिल्ली : विदेश मंत्री सुषमा स्वराज मदद के लिए हमेशा तत्पर रहती है चाहे वह भारतीय नागरिक हो या विदेशी नागरिक। इस बार सुषमा स्वराज ने एक रुसी नागरिक इवांजेलिन शख्स की मदद करने का वादा किया है।

दरअसल रुसी नागरिक इवांजेलिन भारत घुमने आया था, लेकिन इस दौरान उसका एटीएम पिन लॉक हो जाता है। जिसकी वजह से उसे भीख मांगने के लिए मजबूर होना पड़ा। इवांजेलिन तमिलनाडु स्थित एक मंदिर में भीख मांगने लगा।

इवांजेलिन 25 सितंबर को भारत आया था। वो मंगलवार को चेन्‍नई से कांचीपुरम पहुंचा और कुछ मंदिरों का भ्रमणं किया। इस दौरान पैसे निकालने के लिए जब वो एटीएम गया तो उसका एटीएम पिन लॉक हो गया। इसके बाद इवांजेलिन काफी परेशान हो गया।

वह श्री कुमारकोट्टम मंदिर के प्रवेश द्वार पर बैठकर वहां आने जाने वाले लोगों से भीख मांगने के लिए मजबूर हो गया। इस बात की खबर जब वहां के पुलिस को मिली तो वह मंदिर पहुंचकर रुसी नागरिक इवांजेलिन का डॉक्‍यूमेंट चेक किया जो कि जांच में सही निकला। पुलिस ने इवांजेलिन को चेन्‍नई पहुंचने तक के लिए पैसे दिए। पुलिस के मुताबिक रुसी नागरिक इवांजेलिन का अगले महीने तक का वीजा है।

ये बात जब सुषमा स्वराज के सामने आयी तो उन्होंने ट्वीट के जरिए मदद करने बात कही है। उन्‍होंने रूसी नागरिक इवांजेलिन को लेकर ट्वीट करते हुए कहा, आपका देश रूस हमारा मित्र है। चेन्‍नई में मेरे अधिकारी आपकी सभी तरह से मदद करेंगे। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज इससे पहले भी विदेशी नागरिकों की मदद की है। उन्होंने वीजा उपलब्ध करने से लेकर अपने देश भेजने तक जैसे कदम उठा चुकी है।

Tags:    
Share it
Top