Top
Breaking News
Home > Archived > नोट बंदी से ये 5 लोग हुए मालामाल, जानिए?

नोट बंदी से ये 5 लोग हुए मालामाल, जानिए?

 Special Coverage News |  30 Nov 2016 9:49 AM GMT  |  नई दिल्ली

नोट बंदी से ये 5 लोग हुए मालामाल, जानिए?

नई दिल्ली : सरकार की ओर से अचानक 500 रुपए और 1000 रुपए के पुराने नोटों को बंद किए जाने के बाद कुछ लोग ऐसे हैं जिनको सबसे ज्यादा फायदा हुआ है। इन लोगों ने नोटबंदी का पूरा फायदा उठाया। जहां लोग बैंकों और एटीएम की लाइन में लग कर परेशान हैं वहीं इन्होंने ऐसे लोगों की परेशानी को हल करने का तरीका निकाला और खुद का बिजनेस बढ़ाया।

बिपिन प्रीत सिंह : मोबिक्विक
मोबिक्विक के को-फाउंडर बिपिन प्रीत सिंह ने भी नोट बैन का पूरा फायदा उठाया है। बिपिन प्रीत सिंह ने बताया कि नोट बैन के बाद से मोबिक्विक के ऐप डाउनलोड में 200 फीसदी, वॉलेट में मनी ऐड करने में 700 फीसदी, वॉलेट से बैंक में ट्रांसफर करने में 20 गुना की ग्रोथ दर्ज की गई है लेकिन हमारा मकसद मोबिक्विक प्लैटफॉर्म पर 10 लाख मर्चेंट्स को जोड़ना है। हमने इसलिए कॉन्ट्रैक्ट पर 10 हजार लोगों को हायर भी किया है। हम 30 दिन से 45 दिन के भीतर 10 लाख मर्चेंट्स को जोड़ना चाहते हैं।

विजय शेखर शर्मा : पेटीएम
पेटीएम के फाउंडर विजय शेखर शर्मा इस वक्त अपने कारोबार को ऊचाईयों पर लेकर जा रहे हैं। पेटीएम ने कहा है कि उसके रोजाना पेमेंट ट्रांजैक्शन 50 लाख हो गई है और वह 24,000 करोड़ रुपए से ज्यादा को प्रोसेस कर रही है। कंपनी ने दावा किया है कि ऐप डाउनलोड में तीन गुना इजाफा हुआ है। पेटीएम अकाउंट में जुड़ने वाले पैसे में 1000 फीसदी का इजाफा हुआ है।

नवीन सूर्या : इट्जकैश
डिजिटल पेमेंट्स कंपनी इट्ज कैश को भी काफी फायदा मिला है। नोट बंदी के बाद से कंपनी के ट्रांजैक्शन वॉल्यूम में 30 से 40 फीसदी की ग्रोथ दर्ज की गई है। कंपनी ने साल 2006 के बाद से अब तक 3 हजार शहरों में पहुंच बना ली है और 11 करोड़ अकाउंट्स भी खोल लिए हैं।

प्रवीण डाभाई : पेवर्ल्ड
पेवर्ल्ड के सीओओ प्रवीण डाभाई ने कहा कि 8 नवंबर के बाद से पेयूवर्ल्ड के वॉलेट में 25 फीसदी का इजाफा दर्ज किया गया है। कंपनी के 80 लाख वॉलेट हो गए हैं। पेयूवर्ल्ड 630 शहरों और 80 हजार गांवों में मौजूद है। इसके अलावा, कंपनी के यूजर्स 10 करोड़ तक पहुंच गए हैं।

श्रीधर गनडाह : स्टोरकिंग
स्टोरकिंग एक ई-कॉमर्स प्लैटफॉर्म एसिस्टेड कंपनी है। स्टोरकिंग के फाउंडर श्रीधर गनडाह ने बताया कि नोटबंदी के बाद कंपनी ने अमेजन, इंडियन ऑयल और एसबीआई से टाइअप किया है। इससे कंपनी रोजाना 50 हजार रुपए का ट्रांजैक्शन कर रही है। मौजूदा समय में कंपनी 2,300 से ज्यादा शहरों में अपना ऑपरेशन कर रही है। कंपनी के पास 25 हजार रिटेलर्स का नैटवर्क है।
Courtsey - पंजाब केसरी

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it