Home > Archived > मोदी के नोट बंद के फैसले से नाखुश पूर्व गवर्नर राजन, दिया बड़ा बयान

मोदी के नोट बंद के फैसले से नाखुश पूर्व गवर्नर राजन, दिया बड़ा बयान

 Special Coverage News |  14 Nov 2016 7:01 AM GMT  |  new delhi

मोदी के नोट बंद के फैसले से नाखुश पूर्व गवर्नर राजन, दिया बड़ा बयान

नई दिल्लीः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 500 और 1000 के नोट बंद करने की घोषणा के बाद आम लोगों को कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ा रहा है। विपक्षी पार्टियों सहित आम लोग भी पीएम मोदी के फैसले की अालोचना सोशल मीडिया पर कर रहे हैं।

इन अालोचना करने वालों में भारतीय रिजर्व बैंक के पूर्व गर्वनर रघुराम राजन भी शामिल हैं। रिपोर्ट के अनुसार रघुराम राजन विमुद्रीकरण के पक्ष में नहीं थे। साल 2014 में उन्होंने इस पर अपनी राय रखते हुए कहा था, "चालाक लोग इससे बचने का रास्ता निकाल लेंगे।" राजन मानते हैं कि विमुद्रीकरण किए जाने पर कालाधन रखने वाले बड़े नोटों से सोना खरीद सकते हैं जिसे पकड़ना और मुश्किल हो जाएगा।

मीडिया में खबरों के अनुसार नरेंद्र मोदी ने रघुराम राजन को गर्वनर के रूप में सेवा विस्तार नहीं दिया था। राजन ने कहा था कि उन्हें अपना काम पूरा करने के लिए एक साल का समय और चाहिए लेकिन मोदी सरकार ने उनकी जगह उर्जित पटेल को नया गवर्नर बना दिया था।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top