Home > 12 वर्ष बाद छठ महापर्व पर अद्भुत संयोग, जानिए अर्घ्य का शुभ समय

12 वर्ष बाद छठ महापर्व पर अद्भुत संयोग, जानिए अर्घ्य का शुभ समय

 Special Coverage News |  2016-11-01 05:49:10.0  |  patna

12 वर्ष बाद छठ महापर्व पर अद्भुत संयोग, जानिए अर्घ्य का शुभ समय

पटना: लोक आस्था के महापर्व छठ पूजा पर इस वर्ष कार्तिक शुक्ल षष्ठी को खास संयोग भी बन रहा है। महापर्व छठ का पहला अर्घ्य रविवार को होने और चंद्रमा के गोचर में रहने से सूर्य आनंद योग का संयोग बन रहा है। यह खास संयोग लगभग 12 वर्षों के बाद बना है। इससे लंबे समय से बीमार चल रहे व्यक्ति का स्वास्थ्य बेहतर होगा और संतान की भी प्राप्ति होगी।

छठ महापर्व पर चंद्रमा और मंगल के एक साथ मकर राशि में रहने से महालक्ष्मी की भी कृपा
व्रतियों पर बरसेगी। वहीं चंद्रमा से केन्द्र में रहकर मंगल के उच्च होने या स्वराशि में होने से पंच महापुरुष योग में एक रूचक योग भी षष्ठी-सप्तमी को बनेगा। शनिवार को खरना होने से शनि की साढ़े साती से पीड़ित व्यक्ति को खास लाभ होगा। साथ ही अन्य शनि दोष से भी मुक्ति मिलेगी।

छठ महापर्व का चार दिवसीय कार्यक्रम।

नहाय-खाए: 4 नवंबर (शुक्रवार)
खरना(लोहंडा): 5 नवंबर (शनिवार)
सायंकालीन अर्घ्य- 6 नवंबर (रविवार)
प्रात:कालीन अर्घ्य: 7 नवंबर (सोमवार)
सायंकालीन अर्घ्य का समय :- शाम 5.10 बजे
प्रात:कालीन अर्घ्य का समय: प्रात: 6.13 बजे

Tags:    

नवीनतम

Share it
Top