Home > भिंडी से दूर हो सकती है पीलिया जैसी घातक बीमारी, जानिए इसके 7 फायदे

भिंडी से दूर हो सकती है पीलिया जैसी घातक बीमारी, जानिए इसके 7 फायदे

 Admin5 |  2016-09-19 11:05:56.0  |  New Delhi

भिंडी से दूर हो सकती है पीलिया जैसी घातक बीमारी, जानिए इसके 7 फायदे

नई दिल्ली: भिन्डी की सब्जी बनाकर तो हर कोई खाता है लेकिन क्या आप इसके फायदों से आप वाकिफ है। शायद नहीं, भिंडी न सिर्फ खाने में ही स्वादिस्ट लगती है बल्कि इसके कई फायदेमंद गुण भी होते है। भिंडी के सेवन से आपके शरीर से विभिन्न प्रकार की बीमारियां भी दूर रहती हैं। गुणकारी भिंडी भारत में सबसे ज्यादा खाई जाने वाली सब्जियों में से एक है।

भिंडी में कई प्रकार के विटामिन्स जैसे विटामिन ए, बी, सी, ई, के, कैल्शियम, आयरन और जिंक पाए जाते हैं। इतना ही नहीं बल्कि
भिंडी
में उच्च स्तर का फाइबर भी पाया जाता है। आदिवासी इलाकों में भिड़ी को सिर्फ सब्जियों की नजर में नहीं देखा जाता बल्कि इसे कई प्रकार की बीमारियों को दूर करने के लिए प्रयोग में लाते हैं। आइए हम आपको बताते है इससे होने वाले अनेक फायदे के बारे में, जिन्हें जानने के बाद आप रोजाना भिंडी जरूर खाना चाहेंगे।

जानिए भिंडी से होने वाले 7 फायदेमंद गुण

1. डायबिटीज के रोगियों को अक्सर भिंडी की अधकच्ची सब्जी खानी चाहिए। यदि हम ताजी हरी भिंडी का सेवन करते हैं तो डायबिटीज कंट्रोल में रहती है और यह समस्या दूर रहती है।

2. भिंडी के बीजों को इकठ्ठा कर लें। इन्हें सुखाकर पीस लें। ये बीज प्रोटीनयुक्त होते हैं और उत्तम स्वास्थ्य के लिए बेहतर हैं। इस चूर्ण को बच्चों को खिलाने पर ये टॉनिक की तरह काम करेगा।

3. 5 ग्राम भिंडी के बीजों का चूर्ण, 5 ग्राम इलायची, 3 ग्राम दालचीनी की छाल का चूर्ण और 5 दाने काली मिर्च लेकर अच्छी तरह से कूट ले। इस मिश्रण को रोजाना दिन में 3 बार गुनगुने पानी में मिलाकर लें। डायबिटीज में तेजी से फायदा होता है।

4. नपुंसकता दूर करने के लिए पुरुषों को कच्ची भिंडी को चबाने की सलाह दी जाती है। आदिवासी इलाकों के वैद्यों की माने तो शारीरिक कमजोरी दूर करने के लिए भिंडी को बेहतर माना जाता हैं।

5. करीब 50 ग्राम भिंडी को बारीक काटकर 200 मिली पानी में उबालें। जब यह आधा बच जाए तो इसे सिफलिस के रोगी को दें। एक महीने तक लगातार ये नुस्खा अपनाना चाहिए। इससे जल्द आराम मिल जाता है।

6. भिंडी के कटे हुए सिरों को पीने के पानी में डुबो कर सारी रात रखें। सुबह खाली पेट इस पानी को पीएं। बाद में बचे भिंडी के हिस्सों को फेंक दिया जाना चाहिए। माना जाता है कि डायबिटीज नियंत्रण के लिए यह एक कारगर उपाय है।

7. भिंडी को काटकर और लगभग आधा चम्मच नींबू के रस को अनार और भुई आंवला की पत्तियों के साथ 1 गिलास पानी में डुबोकर रात भर रख दें। अगली सुबह सारे मिश्रण को अच्छी तरह से पीसकर रोजाना लगातार 2 बार सात दिनों तक लें। जानकारों के अनुसान पीलिया जैसा घातक रोग इससे एक सप्ताह में ही नियंत्रित हो जाता है। बुखार और सर्दी-खांसी में भी ये दवा रामबाण है।

Tags:    
Share it
Top