Home > भारत के नक्शेकदम पर पाकिस्तान, बंद होगा 5000 रुपये का नोट!

भारत के नक्शेकदम पर पाकिस्तान, बंद होगा 5000 रुपये का नोट!

 Arun Mishra |  2016-12-20 09:07:18.0  |  इस्लामाबाद

भारत के नक्शेकदम पर पाकिस्तान, बंद होगा 5000 रुपये का नोट!

इस्लामाबाद : भारत की मोदी सरकार के नोटबंदी फैसले से प्रभावित होते हुए पाकिस्तान सरकार ने भी नोटबंदी लागू करने का प्रस्ताव संसद में पेश किया। जिसके बाद पाकिस्तान की संसद ने सोमवार को कालेधन को रोकने के लिए 5000 रुपये के बड़े नोट को चरणबद्ध तरीके से वापस लेने का प्रस्ताव स्वीकार कर लिया। पाकिस्तान की संसद ने भारत में नोटबंदी के करीब डेढ़ महीने बाद ही इस प्रस्ताव को पारित किया है।

पाकिस्‍तान मुस्लिम लीग(पीएमएल) के सीनेटर उस्‍मान सैफ उल्‍लाह खान ने 5000 रुपये के नोटों को बंद करने का प्रस्‍ताव रखा था जिसे सांसदों ने बहुमत से पास कर दिया। इस प्रस्‍ताव में कहा गया है कि इन नोटों को बंद करने से बैंक खातों का उपयोग बढ़ेगा और गैर दस्‍तावेजी अर्थव्‍यवस्‍था में कटौती होगी। इन नोटों को तीन से पांच साल के भीतर बंद करने का सुझाव दिया गया है। हालांकि सरकार अभी इस मांग पर राजी नहीं दिख रही है। पाकिस्‍तान के कानून मंत्री जाहिद हमीद ने कहा कि नोटों को वापस लेने से बाजार में संकट आ जाएगा और लोग 5000 रुपये के नोट के ना होने पर विदेशी मुद्रा का सहारा लेंगे।

डॉन अखबार में छपी खबर के अनुसार प्रस्ताव में कहा गया कि 5,000 रुपये के नोट का चलन बंद करने से बैंक खाते के इस्तेमाल को प्रोत्साहन मिलेगा और बिना हिसाब-किताब वाली अर्थव्यवस्था का आकार घटाने में मदद मिलेगी। प्रस्ताव के अनुसार 5,000 के नोट का चलन बंद करने का काम तीन से पांच साल में होना चाहिए ताकि बाजार से नोट हटाये जा सके और लोगों को ज्‍यादा परेशानियों का सामना भी नहीं करना पड़े।

Tags:    
Share it
Top