Home > ट्रंप ने भारतीय इंजीनियर की मौत पर जताया दुख, IS को मिटाने का लिया संकल्प

ट्रंप ने भारतीय इंजीनियर की मौत पर जताया दुख, IS को मिटाने का लिया संकल्प

 Arun Mishra |  2017-03-01 05:48:56.0  |  New Delhi

ट्रंप ने भारतीय इंजीनियर की मौत पर जताया दुख, IS को मिटाने का लिया संकल्प

वॉशिंगटन : अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कंसास गोलीबारी के पीडि़तों के लिए संसद में एक मिनट का मौन रखा। उसके बाद ट्रंप ने कंसास गोलीबारी में मारे गए भारतीय इंजीनियर की मौत पर दुख जताते हुए कहा कि वह घृणा फैलाने वाली घटनाओं के हर स्वरूप की निंदा करते हैं।

राष्ट्रपति बनने के बाद पहली बार यूएस कांग्रेस को संबोधित करते हुए ट्रंप ने कहा कि आईएसआईएस सभी धर्म के लोगों को मार रहा है। वे अपने सहयोगी राष्ट्रों के साथ मिलकर आईएस को खत्म करने का प्रण लेते हैं, सहयोगी देशों में अरब देश के भी राष्ट्र शामिल हैं। अमेरिका को फिर से महान बनाने और 'अमेरिका फर्स्ट' की नीति का समर्थन करने के साथ-साथ ट्रंप ने अपने इस संबोधन में इमिग्रेशन पॉलिसी में प्रस्तावित बदलावों का भी कई तरीके से बचाव किया।

अमेरिका को फिर से महान बनाने की बात करते हुए ट्रंप ने कहा, 'अमेरिका को चाहिए कि वह अपने नागरिकों को सबसे पहले रखे। ऐसा करके ही हम अमेरिका को एक बार फिर महान बना सकते हैं।' उन्होंने कहा, 'अमेरिकी सामान खरीदो, अमेरिकी नागरिकों को नौकरी दो।' संसद के इस संयुक्त सत्र का एक अहम पल वह भी था जब सभी सांसदों ने कैंजस गोलीबारी में मारे गए भारतीय इंजिनियर को श्रद्धांजलि देते हुए एक मिनट का मौन रखा। हाल में अमेरिका के कई हिस्सों में यहूदी केंद्रों पर हुए हमलों की भी राष्ट्रपति ट्रंप ने निंदा की। उन्होंने कहा कि नफरत के खिलाफ पूरा अमेरिका एकजुट है।

गौरतलब है कि पिछले बुधवार की रात कंसास के एक बार में हुई गोलीबारी में भारतीय इंजीनियर श्रीनिवास कुचीभोटला की मौत हो गई थी और दो लोग घायल हो गए थे, जिसमें एक भारतीय शामिल है।

Tags:    
Share it
Top