Home > 80 लाख भारतीयों पर मंडराया रोजी-रोटी का खतरा!, विदेश मंत्रालय ने जारी किया बयान

80 लाख भारतीयों पर मंडराया रोजी-रोटी का खतरा!, विदेश मंत्रालय ने जारी किया बयान

80-lakh-indians-suffer-food-and-employment-crisis

 Kamlesh Kapar |  2017-06-11 10:14:36.0  |  नई दिल्ली

80 लाख भारतीयों पर मंडराया रोजी-रोटी का खतरा!, विदेश मंत्रालय ने जारी किया बयान

नई दिल्ली: कतर और खाड़ी देशों के बीच बढ़ रहे तनाव से भारत की चिंता बढ़ गई है। भारत की असल चिंता का कारण खाड़ी देशों में रहने वाले 80 लाख से भी ज्यादा भारतीय हैं। ये भारतीय हर साल करीब 40 अरब डॉलर की राशि अपने घर वालों को भेजते हैं। लिहाजा भारत ने सभी खाड़ी देशों से बातचीत के जरिए ही विवाद सुलझाने का आग्रह किया है।

विदेश मंत्रालय की तरफ से बताया गया है कि सऊदी अरब समेत कुछ देशों द्वारा कतर से कूटनीतिक संबंध तोड़ने के फैसले लेने के बाद उत्पन्न स्थिति पर भारत गहरी नजर रखे हुए है। ऐसे में विदेश मंत्रालय की तरफ से आए एक बयान में कहा गया है कि खाड़ी देशों में रहने वाले भारतीयों के लिए वह काफी सतर्क है इसलिए भारत सभी देशों के साथ संपर्क बना कर चल रहा है।

भारत मानता है कि खाड़ी में शांति एवं सुरक्षा क्षेत्रीय प्रगति एवं समृद्धि के लिये बहुत महत्वपूर्ण है। अंतर्राष्ट्रीय आतंकवाद, हिंसक उग्रवाद और मज़हबी असहिष्णुता ने ना केवल क्षेत्रीय स्थिरता को बल्कि वैश्विक शांति एवं व्यवस्था के लिये गंभीर खतरा पेश किया है और इससे सभी देशों को समन्वित एवं व्यापक स्वरूप से लड़ना होगा।

Tags:    
Share it
Top