Home > पूर्व FBI चीफ के खुलासे से अमेरिका में मचा हडकम्प, ट्रम्प का पद खतरे में!

पूर्व FBI चीफ के खुलासे से अमेरिका में मचा हडकम्प, ट्रम्प का पद खतरे में!

ex fbi chief comey attack trump

 शिव कुमार मिश्र |  2017-06-09 02:17:40.0  |  दिल्ली

पूर्व FBI चीफ के खुलासे से अमेरिका में मचा हडकम्प, ट्रम्प का पद खतरे में!

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प का विवादों से चोली दामन का साथ है. लेकिन अमेरिका में FBI के पूर्व चीफ ने जो खुलासे से अमेरिका में हडकंप मच गया है. एक तरह से पूर्व FBI ने डोनाल्ड ट्रम्प के खिलाफ खुली बगावत कर दी और आरोप इतने गंभीर है कि डोनाल्ड ट्रम्प का प्रेसिडेंट पद भी जा सकता है. इनके उपर आरोप लगना कोई बड़ी बात नहीं होती है लेकिन इस बार आरोप लगाने वाला उनके द्वारा हटाया गया FBI चीफ है.


जिस शख्‍स ने ट्रंप के खिलाफ मोर्चा खोला है, उसका नाम है जेम्‍स कूमी. कुछ दिनों पहले ही ट्रंप एडमिनिस्‍ट्रेशन ने कूमी को कार्यकाल पूरा होने से पहले ही एफबीआई निदेशक पद से हटाया है. कूमी है वह अधिकारी हैं, जो ट्रंप के चुनाव प्रचार में रूस की भूमिका की जांच कर रहे थे.ट्रंप पर आरोप हैं कि उन्‍होंने चुनाव प्रचार के दौरान रूस की मदद से विपक्षी डेमोक्रेटिक पार्टी के नेताओं के ई-मेल्‍स हैक कराए थे.खबर लिखे जाते वक्‍त पूर्व एफबीआई डायरेक्‍टर कूमी अमेरिकी संसद की इंटेलिजेंस कमेटी के सामने अपना बयान दे रहे थे.

कूमी ने कहा …
'मुझे इस बात में जरा भी शक नहीं कि रूस ने अमेरिकी चुनाव प्रचार में दखल दिया था.उन्होंने कहां कि ट्रंप ने मुझे कहा था मुझे आपकी वफादारी चाहिए और मैं आपसे वफादारी की उम्‍मीद करता हूं. ट्रंप एड‍िमिनिस्‍ट्रेशन झूठ फैला रहा है. मुझे हटाने के पीछे जो तर्क दिया गया, उससे मैं चिंतित होने के साथ ही असमंजस में हूं'

आपको बता दें कि अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप रूस के साथ मिलीभगत के आरोपों को विच हंट (दुर्भावना से कार्य करना) करार दे चुके हैं. दूसरी ओर रूस ने आरोपों को नकारा है, लेकिन जनवरी 2017 में अमेरिकी इंटेलिजेंस एजेंसियों ने दावा किया था कि रूस के हैकर्स ने वरिष्ठ डेमोक्रेट नेताओं के ई-मेल हैक किए थे और हिलेरी क्लिंटन को हराने में ट्रंप की मदद की थी.

Tags:    
Share it
Top