Home > इजराइल के पूर्व राष्ट्रपति और नोबेल विजेता शिमोन पेरेज का निधन

इजराइल के पूर्व राष्ट्रपति और नोबेल विजेता शिमोन पेरेज का निधन

 Admin5 |  2016-09-28 11:46:04.0  |  Israel

इजराइल के पूर्व राष्ट्रपति और नोबेल विजेता शिमोन पेरेज का निधन

इजरायल के पूर्व राष्ट्रपति और नोबेल पुरस्कार विजेता शिमोन पेरेज का आज निधन हो गया। वह 93 वर्ष के थे। उन्होंने अपने देश के लिए शांति का मार्ग प्रशस्त किया था। इजरायल की सरकारी संवाद समिति ने यह जानकारी देते हुए बताया कि शिमोन पेरेज को दो सप्ताह पहले दिल का दौरा पड़ने की वजह से अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनकी हालत में कुछ सुधार भी हुआ, लेकिन कल अचानक उनकी तबीयत बिगड़ गई और उन्हें बचाया नहीं जा सका।

फलस्तीन के साथ एक सदी तक चले विवाद को खत्म करने के प्रयास के लिए नोबेल पुरस्कार जीतने वाले इजरायल के पूर्व राष्ट्रपति शिमोन पेरेज का बुधवार को निधन हो गया। दुनिया के हर कोने से उन्हें भावभीनी श्रद्धांजली दी जा रही है। 93 वर्षीय पेरेज दो बार इस्राइल के प्रधानमंत्री रहे। बाद में वह देश के नौवें राष्ट्रपति बने थे। उनका राजनीतिक करियर सात दशक लंबा रहा। इजराइल फलस्तीन के बीच शांति समझौता कराने के लिए उन्हें शांति का नोबेल पुरस्कार मिला था।

उनके नाम कई उपलब्धियां रही हैं मसलन 1950 के दशक में देश के लिए परमाणु शस्त्रागार तैयार करना, लेबनान से अपने सैन्य बल को हटाना और 1980 में 3 अंकों की महंगाई दर से अर्थव्यवस्था को बाहर निकालना। इसके अलावा 1990 में संशय से ग्रस्त देश को फलस्तीन के साथ शांति वार्ता की राह पर बढ़ाना उनकी सबसे महत्पवूर्ण उपलब्धि रही। वे भारत के बहुत बड़े प्रशंसक थे और इस देश को 'धरती का सबसे महान लोकतंत्र' बताते थे। उन्होंने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत की स्थाई सदस्यता का समर्थन भी किया था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शिमोन पेरेज के निधन पर दुख जताया। PM मोदी ने ट्वीट कर कहा, "राष्ट्रपति शिमोन पेरेज के रूप में हमने एक दिग्गज वैश्विक नेता और भारत के दोस्त को खो दिया है। उनके निधन पर दुख है। इजरायल के लोगों के साथ हमारी संवेदनाएं हैं।"

इजरायल के प्रधानमंत्री बेजामिन नेतान्याहू ने पेरेज को 'स्पप्नदृष्टा' बताते हुए कहा कि वे 'इस्राइल की प्रतिरक्षा के सूरमा थे।' पेरेज के राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी नेतान्याहू ने एक वक्तव्य में कहा, 'शिमोन ने हमारे लोगों को नया जीवन देने के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया।' उनका अंतिम संस्कार शुक्रवार को किया जाएगा। इसमें अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा समेत दुनियाभर के नेता शामिल हो सकते हैं।

ओबामा ने कहा, 'रोशनी भले ही गुम हो गई है लेकिन उन्होंने हमें जो उम्मीदें दी हैं वे हमेशा जिंदा रहेंगी।' ब्रिटेन के पूर्व प्रधानमंत्री टोनी ब्लेयर ने पेरेज को ऐसा मार्गदर्शक बताया जिससे वे 'बेहद प्रेम करते थे।'

Tags:    
Share it
Top