Home > प्रधानमंत्री पद पर नहीं रहेंगे नवाज, पनामा केस में दोषी करार

प्रधानमंत्री पद पर नहीं रहेंगे नवाज, पनामा केस में दोषी करार

पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट ने पनामा केस मामले में नवाज शरीफ को दोषी करार दिया है। इस फैसले के बाद नवाज शरीफ पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पद से हटाए जाएगें।

 Special Coverage News |  2017-07-28 07:23:40.0  |  इस्लामाबाद

प्रधानमंत्री पद पर नहीं रहेंगे नवाज, पनामा केस में दोषी करार

इस्लामाबाद: पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट ने पनामा केस मामले में नवाज शरीफ को दोषी करार दिया है। इस फैसले के बाद नवाज शरीफ पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पद से हटाए जाएगें। सुप्रीम कोर्ट में 5 जजों की बेंच ने नवाज शरीफ के खिलाफ फैसला सुनाया। पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट ने NAB को आदेश दिया है कि वे दो हफ्तों नवाज शरीफ और उनके परिवार के खिलाफ केस दायर करें। वह पाकिस्तान के रिकार्ड तीन बार प्रधानमंत्री बने हैं।

इसबीच, गृह मंत्री चौधरी निसार अली खान ने कहा कि वह पनामागेट मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद अपने पद से इस्तीफा दे देंगे और राजनीति छोड़ देंगे। उनकी इस घोषणा से उनके समर्थक और सत्तारूढ़ पीएमएल-एन स्तब्ध है। उनके विरोधियों ने जिस तरह से उन्हें शरीफ से दूर रखा उस पर उन्होंने बेहद नाराजगी जताई है।
फैसला सुनाने की बात बहुत सारे लोगों के लिए हैरान करने वाली रही क्योंकि पहले कहा गया था कि अदालत की दो सप्ताह की कार्य सूची में पनामा मामला शामिल नहीं है। शरीफ के परिवार के विदेश में संपत्ति अर्जित करने के आरोपों की जांच के लिए संयुक्त जांच दल का गठन किया गया था और जेआईटी ने 10 जुलाई को अपनी रिपोर्ट अदालत को सौंप दी थी। रिपोर्ट में कहा गया था कि शरीफ और उनके बच्चों का रहन सहन उनके आय के ज्ञात स्रोत के मुताबिक नहीं है। रिपोर्ट में उनके खिलाफ भ्रष्टाचार का नया मामला दर्ज करने का सुझाव दिया गया था।
अगर नवाज शरीफ कुर्सी छोड़नी पड़ी, तो उनके छोटे भाई शहबाज शरीफ की प्रधानमंत्री पद पर ताजपोशी तय है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को अगर सुप्रीम कोर्ट संवेदनशील पनामा पेपर्स मामले में कथित भ्रष्टाचार और मनी लॉन्ड्रिंग के लिए अयोग्य ठहराता है, तो उनके छोटे भाई एवं पंजाब प्रांत के मुख्यमंत्री शहबाज उनकी जगह ले सकते हैं।

Tags:    
Share it
Top