Home > छात्रा ने कक्षा साफ करने से किया इनकार, शिक्षिकाओं ने इमारत से फेंका

छात्रा ने कक्षा साफ करने से किया इनकार, शिक्षिकाओं ने इमारत से फेंका

Teachers thrown out Schoolgirl of building

 Kamlesh Kapar |  2017-05-29 13:43:39.0  |  लाहौर

छात्रा ने कक्षा साफ करने से किया इनकार, शिक्षिकाओं ने इमारत से फेंका

लाहौर : एक तरफ पाकिस्तान में शिक्षा का स्तर किसी से छुपा नहीं है, दूसरी तरफ शिक्षिकाओं द्वारा छात्राओं के साथ अभ्रद्र व्यवहार का मामला सामने आया है। पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में कक्षा की सफाई करने से इनकार करने वाली 14 साल की एक लड़की को दो शिक्षिकाओं ने स्कूल की इमारत से धक्का दे दिया।

मीडिया में आई एक रिपोर्ट के अनुसार नौवीं कक्षा की छात्रा फज्जर नूर लाहौर के घुरकी अस्पताल में जिंदगी की जंग लड़ रही है। उसकी हड्डियां कई जगह से टूट गई हैं और उसकी रीढ़ की हड्डी भी टूट गई है। होश में आने पर नूर ने कहा, मेरी कक्षा की शिक्षिकाओं बुशरा और रेहाना ने मुझे कक्षा की सफाई करने का आदेश दिया क्योंकि कक्षा की सफाई करने की मेरी बारी थी।

मैंने उन्हें कहा कि मैं स्वस्थ महसूस नहीं कर रही और किसी अन्य दिन सफाई कर दूंगी। इस पर वे मुझे एक दूसरे कमरे में ले गईं और मुझे थप्पड़ मारने शुरू कर दिए। इसके बाद वे मुझे छत पर ले गईं और मुझे छत साफ करने का आदेश दिया। जब मैंने अपनी बात दुहराई तो उन्होंने मुझे छत से धक्का दे दिया।

यह घटना शाहदरा के कोट शाहाबदीन स्थित सिटी डिस्टि्रक्ट गवर्नमेंट गल्र्स स्कूल की है। शिक्षिकाओं के खिलाफ हत्या की कोशिश का मामला दर्ज किया गया है। यह घटना 23 मई की है लेकिन स्कूल प्रशासन और कुछ अन्य अधिकारियों ने इसे शिक्षा विभाग से छिपाकर रखा। इस मामले में विभागीय जांच शुरू कर दी गई है और यह मामला पूर्ण जांच के लिए मुख्यमंत्री जांच दल को भेज दिया गया है।

Tags:    
Share it
Top