Top
Breaking News
Home > Archived > CJI ने जजों के खाली पदों पर केंद्र पर साधा निशाना, कानून मंत्री ने दिया जवाब

CJI ने जजों के खाली पदों पर केंद्र पर साधा निशाना, कानून मंत्री ने दिया जवाब

 Special Coverage News |  26 Nov 2016 8:54 AM GMT  |  नई दिल्ली

CJI ने जजों के खाली पदों पर केंद्र पर साधा निशाना, कानून मंत्री ने दिया जवाब

नई दिल्ली : सुप्रीम कोर्ट के मुख्य जस्टिस टीएस ठाकुर ने कोर्ट में जजों के खाली पदों को लेकर एक बार फिर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। सीजेआई ने कहा कि आज हाई कोर्ट में 500 जजों के पद खाली हैं, कोर्ट रूम खाली हैं, लेकिन जज नहीं हैं।

चीफ जस्टिस ने कहा कि आज ऐसी स्थिति है जब सुप्रीम कोर्ट का कोई सेवानिवृत्त न्यायाधीश ट्रिब्यूनल का चीफ नहीं बनना चाहता। कई ट्रिब्यूनल खाली पड़े हैं. वहां मेरे सेवानिवृत्त सहयोगियों भेजने से दुखी हूं। ' उन्होंने कहा कि सरकार ट्राइब्यूनल के लिए सुविधा देने को तैयार नहीं है। सरकार ट्राइब्यूनल के जजों के लिए सही स्थान तक मुहैया नहीं करा पा रही है। ट्राइब्यूनलों के लिए हमारे पास कोई आधारभूत ढांचा नहीं है।

कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने दिया जवाब :
कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने मुख्य जस्टिस के इस आरोपों पर जवाब देते हुए कहा कि 'हम मुख्य न्यायाधीश का सम्मान करते है. लेकिन सम्मान के साथ हम असहमत हैं। इस साल हमने 120 न्यायाधीशों की नियुक्ति कर दी है। ट्राइब्यूनल के जजों को रहने के लिए भी बड़ा बंगला नहीं दिया जा सकता है।'



Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it