Home > ये खबर सुनकर लगा लाखों सेना के जवानों को सदमा, BSF जवान पर लगी ऐसी धारा जिसमे हो सकती है फांसी

ये खबर सुनकर लगा लाखों सेना के जवानों को सदमा, BSF जवान पर लगी ऐसी धारा जिसमे हो सकती है फांसी

 शिव कुमार मिश्र |  2017-04-18 08:25:20.0  |  दिल्ली

ये खबर सुनकर लगा लाखों सेना के जवानों को सदमा, BSF जवान पर लगी ऐसी धारा जिसमे हो सकती है फांसी

ये खबर उन लाखों जवानो के लिए एक सदमा हो सकती है जो अपना घर परिवार छोड़ कर केवल मातृभूमि के लिए अपनी वर्दी पहन कर निकल पड़े हैं . कश्मीर पुलिस उस बीएसएफ जवान के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर रही है जिसने अंत तक चेतावनी देने के बाद भी ना मानने वाले पत्थरबाज के खिलाफ गोली चला दी . माना जा रहा है सज़्ज़ाद हुसैन नाम के पत्थरबाज को जब बीएसएफ ने बार बार चेतावनी देते हुए वहां से चले जाने को कहा फिर भी वो अपनी जिद के कारण वहा से नहीं हटा .



सूत्रों के अनुसार जवान को अंतिम समय में आत्मरक्षार्थ गोली चलानी पड़ी जिसके कारण वहा चेतावनी के बाद भी डटा रहा बारामुला जिले के चन्दूशा का 23 साल का सज्जाद हुसैन शेख मौके पर ही मारा गया . सज़्ज़ाद हुसैन के मरते ही वहां अफरातफरी मच गयी .. तमाम व्यापरिक संगठन घेरा बना कर सेना और सुरक्षाबलों का विरोध करने लगे , दुकाने बंद हो गयी और लोग धरना प्रदर्शन आदि करने लगे .. कश्मीर की पुलिस ने अंत में गोली चलाने वाले बीएसएफ जवान के खिलाफ हत्या का मुकदमा कायम करते हुए धारा 302 लगाई और आगे की कार्यवाही प्रारम्भ कर दी .


बीएसएफ की 38 वीं बटालियन के अधिकारी बताते हैं की उनके 3 वाहनों का काफिला मुख्यालय जा रहा था जिसे रस्ते में कुछ पत्थरबाजों ने घेर लिया . वहां भीषण पत्थरबाज़ी शुरू हो गयी और भीड़ ने BSf के हथियार छीनने का प्रयास किया . इसके बाद आत्मरक्षा में चलाई गयी गोली में सज़्ज़ाद हुसैन शेख मारा गया . जम्मू पुलिस और बीएसएफ अपने अपने बयान पर कायम है .

Tags:    
Share it
Top