Home > मुलायम सिंह ने चीन के मुद्दे पर सरकार को चेताया, कहा- 'पाक नहीं चीन है भारत का सबसे बड़ा दुश्मन'

मुलायम सिंह ने चीन के मुद्दे पर सरकार को चेताया, कहा- 'पाक नहीं चीन है भारत का सबसे बड़ा दुश्मन'

देश के पूर्व रक्षा मंत्री ने कहा कि भारत का सबसे बड़ा दुश्मन पाकिस्तान नहीं, चीन है..

 Special Coverage News |  2017-07-19 08:29:45.0  |  New Delhi

नई दिल्ली : समाजवादी पार्टी के नेता मुलायम सिंह यादव ने आज लोकसभा में पड़ोसी चीन का मुद्दा जोरदार ढंग से उठाया। देश के पूर्व रक्षा मंत्री ने कहा कि भारत का सबसे बड़ा दुश्मन पाकिस्तान नहीं, चीन है। सपा प्रमुख मुलायम ने चीनी घुसपैठ के मुद्दे को उठाते हुए सरकार पर इस दिशा में कुछ नहीं करने का आरोप लगाया।

चीन को 'सबसे बड़ा दुश्मन' बताते हुए मुलायम ने सदन में शून्यकाल में कहा, हम पिछले आठ साल से चेतावनी देते आ रहे हैं कि चीन ने हमारे क्षेत्र पर कब्जा जमाना शुरू कर दिया है, लेकिन सरकार ने इस पर कोई ध्यान नहीं दिया। उन्होंने कहा कि भारतीय सेना कह रही है कि वह सभी घुसपैठियों को खदेड़ने को तैयार है, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हो रही है।
मुलायम ने विदेशमंत्री सलमान खुर्शीद की आगामी चीन यात्रा का विरोध करते हुए सवालिया अंदाज में कहा, विदेशमंत्री किसलिए वहां जा रहे हैं? खुर्शीद अगले महीने चीनी प्रधानमंत्री ली केकियांग की भारत यात्रा की तैयारियों के संबंध में 9 मई को बीजिंग की यात्रा पर जाने वाले हैं।
सपा नेता ने कहा, जब सेना प्रमुख खुद यह कह रहे हैं कि सैनिक जवाब देने के लिए तैयार हैं तो सरकार इसका आदेश क्यों नहीं दे रही है? उन्होंने (चीन) 1962 में हमारी बेइज्जती की। वे अब अंतरराष्ट्रीय स्तर पर हमारी बेइज्जती कर रहे हैं। बीजू जनता दल के भृतुहरि मेहताब तथा तृणमूल कांग्रेस के सुदीप बंदोपाध्याय ने मुलायम की बातों का समर्थन किया।
सपा प्रमुख ने कहा कि 1962 के युद्ध के बाद यह फैसला किया गया था कि जब तक चीन ''हमारी एक एक इंच जमीन से वापस नहीं चला जाता, हम उनके साथ कोई बातचीत नहीं करेंगे, लेकिन अब एक मंत्री विचार-विमर्श के लिए चीन जा रहे हैं। हालात के बारे में सदन को सूचित किए जाने की मांग करते हुए मुलायम सिंह ने कहा कि सरकार ने घुसपैठ को रोकने के लिए कोई कदम नहीं उठाया। उन्होंने कहा, बड़े दुखी मन से मुझे कहना पड़ रहा है कि आसन तक ने सरकार को कार्रवाई करने का निर्देश नहीं दिया। वह चाहते थे कि इस 'गंभीर मसले' पर आसन हस्तक्षेप करे।

Tags:    
Share it
Top