Breaking News
Home > देश के नये गृह सचिव होंगें राजीव गौबा, नौकरशाही में फेरबदल

देश के नये गृह सचिव होंगें राजीव गौबा, नौकरशाही में फेरबदल

India's new Home Secretary Rajiv Gobha, bureaucratic reshuffle

 शिव कुमार मिश्र |  2017-06-22 02:31:59.0  |  दिल्ली

देश के नये गृह सचिव होंगें राजीव गौबा, नौकरशाही में फेरबदलias rajiv

दिल्ली: केंद्र सरकार ने बुधवार शाम को कई शीर्ष अफसरों के पदों में बदलाव की घोषणा की. शहरी विकास मंत्रालय में सचिव आईएएस अध‍िकारी राजीव गॉबा (झारखंड 82 बैच) को नया गृह सचिव बनाया है. वह राजीव महर्ष‍ि की जगह लेंगे जिनका कार्यकाल 30 अगस्त को खत्म हो रहा है.

वर्ल्ड बैंक में कार्यकारी निदेश आईएएस अधिकारी सुभाष चंद गर्ग (राजस्थान 83 बैच) को वित्त मंत्रालय में आर्थ‍िक मामलों के विभाग का सचिव बनाया गया है. इसी प्रकार नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया के चेयरमैन आईएएस युद्धवीर सिंह मलिक सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय में सचिव बनाया गया है.

रक्षा मंत्रालय में अतिरिक्त सचिव आईएएस रवि कांत (ब‍िहार 84 बैच) को जहाजरानी मंत्रालय में भेजा गया है. इस मंत्रालय में यूपी कैडर के अधिकारी राजीव कुमार के अपने कैडर में वापस जाने की वजह से पद खाली हुआ है. इसके अलावा कई अन्य नौकरशाहों के पदों में भी बदलाव किया गया है.

कौन हैं राजीव गौबा
राजीव गौबा 1982 बैच के झारखंड कैडर के आईएएस अधिकारी हैं. वर्तमान में केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय में सेक्रेटरी के पद पर कार्यरत हैं. वह भौतिकी विषय में गोल्ड मेडालिस्ट हैं. सिविल सर्विसेज एक्जाम में उन्होंने सातवां रैंक प्राप्त किया था. राजीव गौबा का झारखंड से पुराना संबंध रहा है. उनके पिता 60 के दशक में एजी ऑफिस रांची में कार्यरत थे. गौबा की आरंभिक शिक्षा रांची में ही हुई थी. आईएएस बनने के बाद वह जामताड़ा में एसडीओ और दुमका के डीडीसी के पद पर रह चुके हैं.

लंबा प्रशासनिक अनुभव
राजीव गौबा के पास नीति निर्धारण और कार्यक्रमों को अमली जामा पहनाने का लंबा अनुभव है. वह केंद्र सरकार, राज्य सरकार और अंतरराष्ट्रीय संगठनों में काम कर चुके हैं. गृह, रक्षा और वित्त मंत्रलय में भी काम कर चुके हैं. एक सीनियर अफसर ने बताया, 'गौबा आंतरिक सुरक्षा मामलों में नक्सलवाद और जम्मू-कश्मीर के मुद्दों के डेस्क मंत्रालय में देखते थे. नक्सलवाद पर नियंत्रण के लिए नई पॉलिसी और एक्शन प्लान बनाने में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका रही है.' उनके मुताबिक गौबा पुलिस आधुनिकीकरण और पुलिस सुधार के प्रभारी भी रह चुके हैं.

Tags:    

नवीनतम

Share it
Top